Home » पत्नी ने रची प्रेमी की हत्या की साजिश, पति से कहा- इसकी हत्या करो फिर आऊंगी दोबारा साथ

पत्नी ने रची प्रेमी की हत्या की साजिश, पति से कहा- इसकी हत्या करो फिर आऊंगी दोबारा साथ

गुना जिले के चांचौड़ा इलाके में एक हत्या की गुत्थी दो वर्ष बाद सुलझ पाई। 2021 में रतोधना गांव में एक व्यक्ति की लाश कुएं में उतराते हुए मिली थी। उस समय मर्ग कायम कर जांच की गई, लेकिन मामले का खुलासा नहीं हो पाया। अब दो वर्ष बाद पुलिस ने जांच के आधार पर पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज किया। हत्या की गुत्थी सुलझाते हुए पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं तीन आरोपी अभी फरार चल रहे हैं। यह सामने आया है कि हत्या प्रेम प्रसंग में की गयी थी। मृतक आरोपी की पत्नी के साथ रह रहा था, इसलिए उसने दो और लोगों के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी थी। इस केस में चांचौड़ा थाने के तत्कालीन पुलिसकर्मियों की लापरवाही की संभावना भी जताई जा रही है।

यह था मामला

SP राकेश कुमार सगर ने बताया की 4 जून 2021 को चांचौडा थाना क्षेत्र के ग्राम रतौधना में आनंद सिंह पुत्र हरनाम सिंह मीना के कुएं में सुरेन्द्र उर्फ राजू जोशी(35) की लाश सडी-गली अवस्था में उतराती हुई मिली थी। जिस पर से थाना चांचौडा में मर्ग कायम कर जांच में लिया गया। मर्ग की चांचौडा थाना पुलिस द्वारा जांच की गई, जिसमें मृतक के परिजनों एवं अन्य ग्रामीणों के कथनों, पीएम रिपोर्ट, मर्ग जांच पर से मृतक सुरेन्द्र उर्फ राजू जोशी की किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा हत्या कर लाश को कुंए में फेंकना पाया गया। मर्ग जांच में मृतक की पत्नि मुन्नीबाई अहिरवार द्वारा अपने कथनों में बताया कि 29-30 मई 2021 की रात को वह अपने पति के साथ अपने खेत पर बने कमरे में सो रही थी। रात में मुंह बांधे हुए दो-तीन लोग उसके घर पर आए और उसकी तथा उसके पति के साथ लाठियों से मारपीट करने लगे। मारपीट से वह बेहोश हो गई थी। सुबह जब उसे होश आया तो उसका पति सुरेन्द्र उर्फ राजू जोशी घर पर नहीं था। महिला के बयानों के बाद पुलिस ने 5 मई 2023 को अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया।

SP ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एसडीओपी चाचौडा दिव्या सिंह राजावत के नेतृत्‍व में चांचौडा थाना प्रभारी TI बलवीर सिंह गौर एवं उनकी टीम को आवश्‍यक दिशा-निर्देश देकर लगाया गया। इसके तहत चांचौडा थाना प्रभारी TI बलवीर सिंह गौर अपनी टीम के साथ अज्ञात आरोपियों की तलाश में जुट गए। पुलिस ने मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर तकनीकी संसाधनों की मदद ली गई। इसमे यह सामने आया कि मृतक सुरेन्द्र उर्फ राजू जोशी की हत्या रतोधना के ही हरनारायण अहिरवार, महेश पुत्र हरनारायण अहिरवार और हरनारायण के साले का लडका गोलू अहिरवार द्वारा मारपीट कर को गयी थी। उसे मरा समझकर लाश को कुंए में फेंक दिया था।

इसके बाद चांचौडा थाना पुलिस द्वारा प्रकरण के आरोपियों की तलाश में दबिशें दी गईं। रविवार को प्रकरण के एक आरोपी गोलू(21) पुत्र रघुवीर अहिरवार निवासी ग्राम लखनवास थाना चांचौडा को गिरफ्तार कर लिया गया। उसने पूछताछ पर बताया कि उसकी बुआ फूफा हरनारायण अहिरवार की पत्नि मुन्नीबाई अहिरवार सुरेन्द्र जोशी की पत्नि बनकर साथ रहने लगी थी। इसके कारण उसके फूफा हरिनारायण अहिरवार, फूफा के लडके महेश अहिरवार एवं उसके द्वारा सुरेन्द्र जोशी को मारने की योजना बनाई। घटना दिनांक को उन तीनों के द्वारा मृतक सुरेन्द्र उर्फ राजू जोशी की लाठियों से पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। उसकी लाश को आनंद मीना के कुएं में फेंक दिया था। पुलिस ने आरोपी गोलू को न्यायालय में पेश कर उसका रिमांड लिया गया है। पुलिस बाकी आरोपियों की तलाश कर रही है।

गुजरात में हुई थी महिला की मृतक से दोस्ती

महिला मुन्नीबाई की शादी तेली गांव के रहने वाले हरिनारायण से हुई थी। महिला वर्ष 2015 से उससे अलग रह रही थी। हरिनारायण वर्तमान में रुठियाई में रहता है। अपने पति से अलग होने के कुछ वर्ष बाद महिला गुजरात मजदूरी करने गयी थी। वहीं पर मुन्नीबाई शिवपुरी जिले के करेरा थाने इलाके के पडोहरा गांव के रहने वाले सुरेंद्र जोशी के संपर्क में आई। इसी दौरान कोरोना के कारण लॉक डाउन लग गया। सुरेंद्र भी महिला के साथ उसके गांव आ गया और वहीं पर रहने लगा। इसी बात से महिला के मायके वाले और उसके पति नाराज हो गए।

महिला की सहमति से रची गयी साजिश

सुरेंद्र भी अपने परिवार को छोड़कर इस महिला के साथ रहने लगा। बीच-बीच में वह अपने गांव जाता रहता था। महिला खुद भी इस षड्यंत्र में शामिल थी। उसके ऊपर जब दवाब पड़ा, तो उसने पूरी कहानी बयां कर दी। जब वह सुरेंद्र के साथ रह रहे थी तो उसके मायके वाले और पहले पति ने उसे समझाया। इसके बाद वह अपने पति से रुठियाई में मिली। वहां यह बात हुई कि इसे(सुरेंद्र को) रास्ते से हटा दो तो वह उसके(पहले पति के) साथ रहने लगेगी। इसी के बाद 28 मई 2021 की रात में ये सभी लोग आए। यहां उन्होंने महिला और उसके प्रेमी को आपत्तिजनक अवस्था में देखा। ये देखा उनका पारा चढ़ गया। उन्होंने दोनों पर हमला कर दिया। महिला पर उन्होंने दिखावे के लिए हमला किया। उसके प्रेमी पर ताबड़तोड़ वार कर दिया। उसे पेड़ से बांधकर मारा। जब उन्हें लगा कि वह मर गया है तो उसे उठाकर कुएं में फेंक दिया। 4 जून को उसकी लाश मिली।

पुलिस ने नहीं की तहकीकात

सूत्रों की मानें तो 4 जून को सुरेंद्र की लाश मिली। 7 जून को उसकी पत्नी ने पुलिस को बताया कि कुछ नकाबपोश लोगों ने हमला किया। उस समय पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया। अब जब फिर से पुराने केसों की विवेचना हुई तो यह पूरा मामला खुल गया। इस केस का खुलासा होने के बाद से ही मुन्नीबाई फरार है। पुलिस को यह शक है कि वह भी इस षड्यंत्र में शामिल रही है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd