Home भोपाल 16 जिलों में पड़ सकती हैं गरज-चमक के साथ बौछारें

16 जिलों में पड़ सकती हैं गरज-चमक के साथ बौछारें

10
0

भोपाल। वातावरण में लगातार आ रही नमी के कारण प्रदेश में अलग-अलग जिलों में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने का सिलसिला जारी है। राजधानी सहित जबलपुर, सागर, होशंगाबाद, ग्वालियर एवं चंबल संभागों के अलावा रीवा, सतना, खंडवा, खरगौन, बुरहानपुर, रतलाम, उज्जैन, देवास, शाजापुर व आगर जिले में गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। वहीं जबलपुर, सागर, भोपाल, होशंगाबाद, ग्वालियर एवं चंबल संभाग व रीवा, सतना, खंडवा, खरगौन, बुरहानपुर, रतलाम, उज्जैन, देवास, शाजापुर एवं आगर जिले में गरज चमक के साथ बिजली चमकने और गिरने की आशंका है। वहीं तेज हवाएं भी चलने की संभावना है। हवाएं 30 से 40 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चलेंगी। ऐसा ही मौसम आगामी दो दिन तक बना रहेगा।

दरअसल, रविवार को एक नया पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में दाखिल हो गया है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक इस सिस्टम की तीव्रता काफी अधिक है। इससे प्रदेश में सोमवार, मंगलवार और बुधवार को कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। इसके बाद मौसम साफ होने के आसार हैं। दक्षिण-पूर्वी मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इसके अतिरिक्त उत्तर-पश्चिमी राजस्थान पर भी एक प्रेरित चक्रवात मौजूद है। इन सिस्टम की मौजूदगी के कारण अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से लगातार नमी आ रही है। इससे बादल बने हुए हैं।

ओलावृष्टि की भी है संभावना

मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि वातावरण में नमी बढ़ने से प्रदेश में सोमवार से लेकर बुधवार तक गरज-चमक के साथ बरसात होने की संभावना है। इस दौरान कहीं-कहीं आकाशीय बिजली गिरने और ओला वृष्टि भी होने की आशंका है। बुधवार से वेदर सिस्टम कमजोर पड़ने से बादल छंटने लगेंगे। इसके बाद दिन के तापमान में कुछ बढ़ोतरी होने लगेगी और रात के तापमान में कुछ गिरावट दर्ज होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here