Home भोपाल मप्र विधानसभा की तीन सीटें रिक्त घोषित, अधिसूचना भी जारी, मानसून बाद...

मप्र विधानसभा की तीन सीटें रिक्त घोषित, अधिसूचना भी जारी, मानसून बाद ही चुनाव के आसार

14
0

स्वदेश ब्यूरो, भोपाल।

प्रदेश की तीन विधानसभा सीट जोबट, पृथ्वीपुर और रैगांव को राज्य विधानसभा सचिवालय ने रिक्त घोषित कर दिया है। विधानसभा सचिवालय ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है। वहीँ , मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के माध्यम से उक्त तीनों सीटें रिक्त होने की सूचना चुनाव आयोग को भी भेज दी गई है। रिक्त सीटों के लिए नियमानुसार छह माह में (अक्टूबर पूर्व) चुनाव होना चाहिए लेकिन कोरोना महामारी और जून बाद मानसून को देखते हुए इन सीटों पर जल्द उपचुनाव होने के आसार नहीं हैं।

दरअसल , प्रदेश के अधिकांश जिलों में कोरोना संक्रमण की दर दस फीसद से अधिक बनी हुई है। महामारी के लिहाज से यह असामान्य स्थिति है। कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए चुनाव आयोग ने खंडवा लोकसभा सहित अन्य राज्यों की विधानसभा सीटों के उपचुनाव पहले ही टाल दिए हैं। वहीं, जून में मानसून सक्रिय हो जाएगा और आमतौर पर इस मौसम में उपचुनाव नहीं कराए जाते हैं। वैसे भी तीनों विधानसभा सीट के अधिकांश क्षेत्र ग्रामीण हैं।

विधायकों के निधन से रिक्त हुई सीट

पिछले दिनों अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित रैगांव विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक जुगल किशोर बागरी, जोबट से कांग्रेस विधायक कलावती भूरिया व पृथ्वीपुर से कांग्रेस विधायक बृजेन्द्र सिंह राठौर का निधन कोरोना संक्रमित होने से हो गया था। उक्त विधायकों के निधन के कारण ये सीटें रिक्त हुईं। इसके पहले खंडवा लोकसभा सीट सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के निधन की वजह से रिक्त हुई थी।

मानसून बाद ही चुनाव के आसार

चुनाव आयोग ने पिछले दिनों खंडवा सहित अन्य राज्यों की रिक्त लोकसभा और विधानसभा सीटों के उपचुनाव फिलहाल नहीं कराने का निर्णय लिया है। दरअसल, कोरोना संक्रमण की वजह से अधिकांश राज्यों में कर्फ्यू लागू है। ऐसे में चुनाव कराने से संक्रमण और फैल सकता है। सभी राजनीतिक दल भी इस बात पर सहमत हैं कि फिलहाल चुनाव टाले जाएं।

सत्ता समीकरणों पर फर्क नहीं

नियमानुसार अधिकतम छह माह तक सीट रिक्त रह सकती है। माना जा रहा है कि तीनो विधानसभा व खंडवा लोकसभा सीट के चुनाव बारिश के मौसम बाद ही हो सकेंगे। गौरतलब है कि 230 सदस्यीय विधानसभा में तीन सीटें रिक्त हैं। मौजूदा दलीय स्थिति देखें तो भाजपा के पास पूर्ण बहुमत है। भाजपा के विधायकों की संख्या 125 है। जबकि, कांग्रेस के विधायकों की संख्या 95 है। चार निर्दलीय, दो बसपा और एक विधायक समाजवादी पार्टी के हैं। इस तरह उक्त तीन सीटों से प्रदेश के सत्ता समीकरण पर कोई बहुत फर्क नहीं पड़ेगा।

तदर्थ समिति सदस्य बने राहुल सिंह लोधी खरगापुर विधायक

विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम द्वारा गत 5 मई को गठित विस की प्रश्न एवं सन्दर्भ समिति में सदस्य बनाए गए राहुल सिंह लोधी वास्तव में टीकमगढ़ जिले की खरगापुर सीट से विधायक हैं। गत छह मई को दैनिक स्वदेश के अंक में प्रकाशित सम्बंधित समाचार में भूलवश दमोह सीट के पूर्व विधायक राहुल सिंह लोधी का नाम प्रकाशित हो गया , इसका हमें खेद है। वास्तव में नामों की समानता एवं विस सचिवालय द्वारा जारी नवगठित समितियों के सदस्यों के साथ उनके निर्वाचन क्षेत्र का जिक्र नहीं होने से भ्रम की यह स्थिति बनी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here