Home भोपाल एक कार्ड पर पूरे परिवार को मिलेगा फायदा; प्राइवेट अस्पतालों को पैकेज...

एक कार्ड पर पूरे परिवार को मिलेगा फायदा; प्राइवेट अस्पतालों को पैकेज के अतिरिक्त 40% राशि देगी सरकार

10
0

मध्य प्रदेश में आयुष्मान भारत योजना के कार्ड धारकों को कोरोना का प्राइवेट अस्पतालों में मुफ्त इलाज मिलेगा। मुख्यमंत्री ने गुरुवार को कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि जिन पात्र लोगों के कार्ड नहीं बन पाए हैं, उसे जल्द ही योजना में शामिल करें। मुख्यमंत्री ने कहा है कि यदि एक व्यक्ति का कार्ड है, तो उसके पूरे परिवार को प्राइवेट अस्पताल में मुफ्त इलाज मिलेगा।

योजना के संबंध में गृह मंत्री डाॅ. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि मप्र सरकार आयुष्मान भारत योजना में प्रदेश के गरीब और आम आदमी का निजी अस्पतालों मे इलाज मुफ्त कराएगी। सरकार के खजाने से प्राइवेट अस्पतालों को अन्य बीमारियों के पैकेज में कोरोना का इलाज करने के लिए 40% अतिरिक्त राशि दी जाएगी।

योजना के तहत प्रदेश के 579 प्राइवेट अस्पताल में अब कमजोर वर्ग के लोग कोरोना का नि:शुल्क इलाज करा सकेंगे। प्रदेश में आयुष्मान कार्ड धारकों की संख्या 2 करोड़ 42 लाख है। यानी 96 लाख परिवारों को इसका लाभ होगा। कोरोना के इलाज के दौरान मरीज को भोजन, ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्सन, सीटी स्केन समेत अन्य सुविधाएं भी योजना के तहत मुफ्त मिलेंगी।

कलेक्टर कर सकेंगे प्राइवेट अस्पतालों को संबद्ध

जिले के प्राइवेट अस्पतालों में नि:शुल्क इलाज मिल सके, इसके लिए कलेक्टर को अधिकार दिए गए हैं कि वे अपने जिले के निजी अस्पतालों को योजना के अंतर्गत अस्थाई रूप से संबद्ध कर सकेंगे।

5 हजार रुपए डायग्नोस्टिक एडवांस

राज्य सरकार द्वारा योजना के तहत इलाज करवाने वाले प्रत्येक व्यक्ति को एडवांस डायग्नोस्टिक के लिए 5 हजार रुपए दिए जाएंगे। योजना के तहत 5 हजार रुपए प्रत्येक पात्र परिवार को दिए जाते हैं।

आयुष्मान भारत योजना में 60,915 बेड उपलब्ध होंगे

  1. 37,159 बेड सरकारी अस्पतालों में
  2. 3,675 बेड अनुबंधित अस्पतालों में
  3. 20,081 बेड अनुबंधित निजी अस्पतालों में

एक माह में ऑक्सीजन प्लांट शुरू हो जाएंगे

डाॅ. मिश्रा ने कहा कि एक महीने में सभी जिले ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर हो जाएंगे। सरकार ने करीब 90 एक्शन प्लांट लगाने की अनुमति दे दी है। ऑक्सीजन प्लांट जिला मुख्यालयों के अलावा बड़ी-बड़ी तहसीलों में भी लगाए जाएंगे।

15 मई तक मिलेंगे वैक्सीन के 8 लाख डोज

गृह मंत्री ने बताया कि 18 से 45 साल तक के 4 हजार 981 लोगों को वैक्सीन का पहला डोज लग पाया है। इस कैटिगरी के लोगों के लिए 1 लाख 50 हजार डोज उपलब्ध हैं, जबकि 15 मई तक 10 लाख 67 हजार डोज 15 मई तक आएंगे। हेल्थ व फ्रंट लाइन वर्कर्स समेत 45 साल से ज्यादा के लोगों के लिए वैक्सीन के 6 लाख 35 हजार डोज उपलब्ध हैं, जबकि 15 मई तक 8 लाख डोज मिल जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here