Home भोपाल रेलवे ने आरयूबी की बढ़ाई ऊंचाई, अब ब्रिज से नहीं टकराएंगे भारी...

रेलवे ने आरयूबी की बढ़ाई ऊंचाई, अब ब्रिज से नहीं टकराएंगे भारी वाहन

7
0
  • भारी वाहनों के ब्रिज से टकराने की घटनाएं आ रहीं थी सामने, रेल प्रशासन ने यातायात समस्या को किया दूर

स्वदेश संवाददाता, भोपाल

भोपाल रेल मंडल के गुना-मक्सी रेल खण्ड पर शाजापुर-सारंगपुर के मध्य रेलवे लाइन पर बने रोड अंडर ब्रिज (आरयूबी.) की ऊंचाई कम होने के कारण भारी वाहनों का आवागमन इस ब्रिज से नहीं हो पाता था। भारी वाहनों के इस ब्रिज से टकराने की घटनाएं होती रहती थीं, जिसके संबंध में प्रशासन को समय-समय पर अवगत कराया जाता रहा है। भोपाल मंडल रेल प्रशासन द्वारा इस ब्रिज से सडक़ यातायात की समस्या को दूर करने के लिए पहल करते हुए इस रोड अंडर ब्रिज में नया आरसीसी ट्विन बॉक्स बैठाकर रोड की सतह से ब्रिज की ऊंचाई भी बढ़ा दी गई है। जिससे अब भारी वाहनों के ब्रिज से टकराने की समस्या समाप्त हो जाएगी।

इस रेल खण्ड पर है स्थित ब्रिज

भोपाल रेल मंडल के गुना-मक्सी रेल खण्ड पर शाजापुर-सारंगपुर के मध्य रेलवे लाइन पर बने रोड अंडर ब्रिज (आर.यू.बी.) से होकर आगरा-मुम्बई राष्ट्रीय राजमार्ग गुजरता है। पूर्व में यह दो लेन मार्ग था, जिसे भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा चार लेन बनाया गया था। शाजापुर से गुना की ओर जाने वाला मार्ग इसी पुल से होकर गुजरता है। चार लेन निर्माण के समय इस पुल पर रोड ऊंचा हो जाने के कारण भारी वाहन इस पुल से नहीं निकल पाते थे। उन्हें विपरीत दिशा में होकर गुजरना पड़ता था, इससे हादसे भी अधिक हो रहे थे। इससे पूर्व भारी वाहन के इस रेलवे ब्रिज के ऊपरी हिस्से से टकरा जाने से बड़ा हादसा होते होते बचा था।

निर्माण में अपनाई तकनीकी

ब्रिज से सडक़ वाहनों के संरक्षित और सुचारू रूप से गुजरने एवं रेल ब्रिज को क्षतिग्रस्त होने से बचाने तथा रेल यातायात की सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए इस ब्रिज की ऊंचाई बढ़ाने की आवश्यकता महसूस की जा रही थी। जिस पर मंडल रेल प्रशासन द्वारा संज्ञान लेते हुए नया आरसीसी ट्विन बॉक्स बनाकर पुल में बैठाया गया, साथ ही रोड की सतह से पुल की ऊंचाई 05 मीटर से बढ़ाकर 06 मीटर कर दी गई है एवं 06.10 मीटर के दो स्पॉन बना दिये गए हैं। इससे रेल एवं सडक़ यातायात दोनों की संरक्षा सुनिश्चित की जा सकेगी, साथ ही इस पुल से वाहनों का आवागमन भी सुचारू रूप से हो सकेगा।

डीआरएम ने की माल ढुलाई समीक्षा

मंडल रेल प्रबंधक उदय बोरवणकर नें शुक्रवार 28 मई को बिजनेस डेवलपमेन्ट यूनिट ( बीडीयू ) के अधिकारियों के साथ माल ढुलाई की समीक्षा की और मंडल के लिए अधिकतम माल लदान की रणनीति को अंतिम रूप देने के लिए चर्चा की। इस अवसर पर डीआरएम नें नई जिंस एवं खाद्यान्न, उर्वरक, लौह अयस्क, रेत एवं ऑटो मोबाइल आदि का लदान बढ़ाने के लिए आक्रामक प्रयास करने के निर्देश दिए। डीआरएम नें कहा है कि खाद्यान्न के पीस मील लदान के लिए गारलैंड रैक चलाने के प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि माल लदान से जुड़े व्यापारी अपने माल का संयुक्त मात्रा में परिवहन करने के लिए आगे आएं और रेलवे की नई योजनाओं का लाभ उठाएं।

ग्वालियर-भोपाल-ग्वालियर रद्द

रेल प्रशासन द्वारा यात्री संख्या में बहुत कमीं होने की वजह से ग्वालियर-भोपाल-ग्वालियर स्पेशल ट्रेन के निरस्त रहने की अवधि बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। जिसके अनुसार गाड़ी संख्या 04198 एवं गाड़ी 04197 ग्वालियर-भोपाल-ग्वालियर स्पेशल ट्रेन दोनो दिशाओं में 29 जून तक रद्द रहेगी। इससे पूर्व यह गाड़ी 31 मई तक के लिए रद्द की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here