Home भोपाल उज्जैन, ग्वालियर संभाग में आंधी के साथ बौछारें पड़ने की संभावना

उज्जैन, ग्वालियर संभाग में आंधी के साथ बौछारें पड़ने की संभावना

10
0

भोपाल। पाकिस्तान और उसके आसपास एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इसके प्रभाव से मध्य पाकिस्तान और उससे लगे राजस्थान पर एक प्रेरित चक्रवात बन गया है। इन दो सिस्टम के कारण वातावरण में नमी आ रही है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक शुक्रवार को ग्वालियर, चंबल और उज्जैन संभाग के जिलों में कहीं-कहीं धूल भरी आंधी चलने के साथ बारिश हो सकती है। भोपाल, जबलपुर, इंदौर में आंशिक बादल बने रहेंगे। साथ ही दिन के तापमान में बढ़ोतरी होने के आसार हैं।

मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक गुरुवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 37.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह सामान्य रहा। साथ ही बुधवार के अधिकतम तापमान (39.2 डिग्रीसे.) की तुलना में 1.4 डिग्रीसे. कम रहा। न्यूनतम तापमान 23.5 डिग्रीसे. रिकार्ड किया गया। जो सामान्य से दो डिग्रीसे. अधिक रहा। यह बुधवार के न्यूनतम तापमान (21.2 डिग्रीसे.) के मुकाबले 2.3 डिग्रीसे. अधिक रहा। मौसम विशेषज्ञ अजय शुक्ला ने बताया कि बादल बने रहने और तेज हवाएं चलने के कारण दिन के तापमान में गिरावट हो रही है। बादलों की मौजूदगी की वजह से रात का तापमान बढ़ रहा है।

चार मौसम सिस्टम हैं सक्रिय

अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में पाकिस्तान पर एक पश्चिमी विक्षोभ बना है। मध्य पाकिस्तान और उससे लगे राजस्थान पर एक प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। हरियाणा और उससे लगे क्षेत्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इसी तरह विदर्भ पर भी एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इन चार वेदर सिस्टम के कारण वातावरण में नमी आ रही है। शुक्रवार को सुबह पाकिस्तान पर बने पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में दाखिल होने की संभावना है।

मध्य पाकिस्तान पर बना प्रेरित चक्रवात भी पश्चिमी राजस्थान पर खिसक आएगा। इस वजह से शुक्रवार को ग्वालियर, चंबल और उज्जैन संभाग के जिलों में कहीं-कहीं तेज रफ्तार से धूल भरी हवाएं चलने के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। प्रदेश के शेष जिलों में आंशिक बादल बने रह सकते हैं, लेकिन दिन के तापमान में बढ़ोतरी होने लगेगी। रविवार तक पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ने के बाद दिन के तापमान में कुछ गिरावट होने लगेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here