Home भोपाल फोरलेन फ्लाईओवर के निर्माणाधीन पिलर का ढांचा गिरा

फोरलेन फ्लाईओवर के निर्माणाधीन पिलर का ढांचा गिरा

21
0
  • मानसरोवर काम्पलेक्स के सामने था पिलर, गणेश मंदिर से गायत्री मंदिर तक बन रहा 2150 मीटर लंबा सेतु

स्वदेश संवाददाता, भोपाल

राजधानी मुख्यालय पर गणेश मंदिर से गायत्री मंदिर तक 2150 मीटर लंबे फोर लेन सेतु निर्माण के लिए बनाए जा रहे पिलर (पियर) में मानसरोवर कांपलेक्स के समाने निर्मित होने वाले निर्माणाधीन पिलर का ढांचा तकनीकी खामियों के चलते बुधवार 22 सितंबर की शाम को अचानक गिर गया। पिलर का ढांचा खड़ा करने में लोहे के सरिया का ढांचा आसमान छूते हुए बनाया जा रहा था।

जिस समय पिलर का ढांचा गिरा, उस समय आसपास काम करने वाले श्रमिक दूर खड़े थे, जिससे कोई जनहानि नहीं हुई है। मौके पर मौजूद राहगीरों ने बताया कि यदि पूरा ढांचा जमीन पर गिर जाता तो बीआरटीएस मार्ग पर चलने वाले भारी यातायात के चलते जनहानि हो सकती थी, परन्तु पिलर का ढांचा गिरते गिरते हवा में ही लटककर रह गया। जिससे बड़ा हादसा ढल गया है। आकस्मिक घटना के समय अनुविभागीय अधिकारी स्वयं मौजूद थे तथा इसके बाद मुख्य अभियंता लोक निर्माण विभाग सेतु परिक्षेत्र ने स्थल का निरीक्षण भी किया है।

126 करोड़ हो रहे खर्च
शहर में यातायात का दबाव कम करने के लिए लोक निर्माण सेतु के माध्यम से गणेश मंदिर मंदिर से गायत्री मंदिर गणेश मंदिर, हबीबगंज, मानसरोवर, प्रगति पेट्रोल पंप, बोर्ड आफिस चौराहा, डीबी मॉल होते हुए गायत्री मंदिर) तक 2150 मीटर लंबर सेतु एवं डीबी मॉल गुरूदेव गुप्त चौराहे से वल्लभ भवन तक 200 मीटर लंबा सेतु का निर्माण 126 करोड़ की लागत से (सरकारी बोली 140 करोड़) मेसर्स व्हीकेएससी इंफ्रा प्रोजेक्ट लिमिटेड भोपाल के द्वारा किया जा रहा है, केन्द्रीय सडक़ निधि (सीआरएफ) से सेतु निर्माण के लिए राशि स्वीकृत की गई थी।

ऐसा तैयार हो रहा सेतु

सेतु के संपूर्ण निर्माण में 25-25 मीटर के 75 स्पॉन, 30-30 मीटर 04 स्पॉन, 15-15 मीटर के 02 स्पॉन, 16-16 मीटर के 02 स्पॉन, 33 मीटर का 01 स्पॉन, 60 मीटर का 01 स्पॉन का निर्माण के साथ साथ सेतु से उतरते समय बनाई जाने वाली रिटेनिन वॉल 384 मीटर की बनेगी, जिसमें गणेश मंदिर की तरफ लगभग 100 मीटर लंबा और गायत्री मंदिर की तरफ लगभग 200 मीटर लंबा रैंप बनाया जाएगा। वहीं दूसरी तरफ गुरूदेव गुप्त चौराहे से वल्लभ भवन की तरफ जाने वाले सेतु की कुल लंबाई 200 मीटर की होगी, जिसमें 120 मीटर की लंबाई में 15-15 मीटर के 08 स्पॉन का निर्माण किया जाएगा, जिसमें जेल रोड की तरफ 80 मीटर लंबा रैंप का निर्माण किया जाएगा।

इन्होंने बताया

शाम 4.15 बजे मानसरोवर कॉम्पेक्स के सामने जीजी. फ्लाईओवर के पियर क्रमांक पी-30 में पियर का स्टील बांधने की कार्यवाही की जा रही थी, तभी पियर की खुदाई से निकाली गई मिट्टी को हटाने के लिए लाए गए जेसीबी का ब्रेक फेल हो गया, जिसकी वजह से पियर के स्टील को 6 तरफ से सपोर्ट करने वाले एक केबल से जेसीबी की बूम टकरा गई, टकराने से केबल का लॉक टूट गया और पियर का स्टील बीआरटीएस कॉरिडोर की ओर झुक गया था। किसी भी प्रकार की धन-जन हानि नहीं हुई है।

रवि शुक्ला, अनुविभागीय अधिकारी
लोक निर्माण (सेतु) विभाग, भोपाल

Previous articleनिर्यात बढ़ाने बनेगी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल: शिवराज
Next articleहबीबगंज स्टेशन पर शुरू हुई बैटरी चलित कार की सुविधा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here