Home भोपाल राजधानी सहित प्रदेश के कुछ हिस्सों में छाए आंशिक बादल: मप्र की...

राजधानी सहित प्रदेश के कुछ हिस्सों में छाए आंशिक बादल: मप्र की हवा में अरब सागर से आ रही नमी

26
0

-दो दिन बाद तापमान में उछाल आने की संभावना

भोपाल। मध्य प्रदेश के वातावरण में हवा के साथ नमी आने का सिलसिला बना हुआ है। यह सब हो रहा है अरब सागर पर बने एक प्रति चक्रवात के कारण। यही वजह है कि राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के कुछ हिस्सों में आंशिक बादल छाने लगे हैं। प्रदेश के अधिकांश जिलों में बादलों की मौजूदगी के कारण अधिकतम तापमान में अपेक्षाकृत वृद्धि नहीं हो पा रही है।

तापमान में होगी बढ़ोत्तरी

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक 20 अप्रैल को एक पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में दाखिल होने की संभावना है। इस सिस्टम के उत्तर भारत से आगे बढऩे पर तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है। इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर में भी अधिकतम तापमान में मामूली उतार-चढ़ाव देखा गया। मौसम विशेषज्ञ अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में अरब सागर में एक प्रति चक्रवात बना हुआ है। प्रदेश में सुबह के समय हवा का रूख उत्तर-पूर्वी रहता है। इससे बादल छंट जाते हैं। धूप में तल्खी होने से तापमान धीरे-धीरे बढऩे लगता है, लेकिन दोपहर के समय हवा का रुख बदलकर पश्चिमी हो जाता है।

एक-दो दिन जारी रहेगा उतार-चढ़ाव

पश्चिमी हवाओं के साथ अरब सागर से कुछ नमी भी आ रही है। इससे आसमान पर आंशिक बादल छाने लगते हैं। बादलों की मौजूदगी के कारण अधिकतम तापमान अपेक्षाकृत नहीं बढ़ पा रहा है। शुक्ला के मुतबिक अभी एक-दो दिन तक इसी तरह तापमान में उतार-चढ़ाव की स्थिति देखने को मिल सकती है। 20 अप्रैल को एक नए पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में पहुंचने की संभावना है। इसके उत्तर भारत से गुजर जाने के बाद 22 अप्रैल से तापमान में बढ़ोतरी हो सकती है।

अंतिम सप्ताह में होंगे तीखे तेवर

राजधानी में अभी तक इस सीजन का सबसे अधिक 41.1 डिग्री सेल्सियस तापमान छह अप्रैल को दर्ज किया गया था। मौसम विज्ञानियों का अनुमान है कि अप्रैल के अंतिम सप्ताह में गर्मी के तेवर तीखे हो सकते हैं। गौरतलब है कि इस वर्ष अप्रैल माह का पहला पखवाड़ा बीत चुका है, लेकिन अभी तक अप्रैल के मिजाज के अनुसार राजधानी भोपाल और प्रदेश के किसी भी हिस्से में अपेक्षित गर्मी नहीं पड़ी है।

Previous articleकोरोना महामारी के बढ़ता प्रकोप: ब्रिटिश प्रधानमंत्री जॉनसन की भारत यात्रा रद्द
Next articleप्रदेश में सेना के अस्पतालों में होगा कोरोना मरीजों का इलाज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here