Home भोपाल 35 जिलों में कोई मरीज नहीं मिला, अब रविवार का कोरोना कर्फ्यू...

35 जिलों में कोई मरीज नहीं मिला, अब रविवार का कोरोना कर्फ्यू समाप्त, कोरोना समीक्षा के बाद मुख्यमंत्री ने की घोषणा

30
0
  • अब सिर्फ रात में दस से सुबह छह बजे तक रहेगा नाइट कर्फ्यू
  • कोविड प्रोटोकॉल के तहत रविवार को खुलेगा बाजार
  • शनिवार को 46 पॉजिटिव मिले, 0.1 फीसदी हुई साप्ताहिक संक्रमण दर

विशेष संवाददाता, भोपाल

प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर पर काबू पाने के बाद राज्य सरकार ने प्रदेश भर में रविवार को लगने वाला कोरोना कर्फ्यू समाप्त कर दिया है। अब रविवार को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए पूरे बाजार खुल सकेंगे। प्रदेश में अब सिर्फ रात दस बजे से सुबह छह बजे तक रात्रि कर्फ्यू रहेगा।
उक्त घोषणा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को प्रदेश भर की एक साथ कोरोना समीक्षा करने के बाद की है।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट करते हुए कहा कि प्रदेश में कोरोना नियंत्रण में है। प्रदेश में अब 35 जिले में एक भी कोविड-19 पॉजिटिव केस नहीं आया है। पहली बार एक्टिव केस की संख्या घटकर एक हजार के नीचे आई है। हमारी पॉजिटिविटी दर घटकर 0.06 प्रतिशत रह गई है। ऐसी स्थिति में फिलहाल रविवार को भी कोरोना कफ्र्यू लगाना औचित्यहीन लग रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम तत्काल प्रभाव से रविवार के कोरोना कफ्र्यू को समाप्त कर रहे हैं। जिन्हें अपनी दुकानें खोलना हों, आर्थिक गतिविधियां जारी रखना हों, वे नियमानुसार कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपनी गतिविधियां चालू रख सकते हैं। रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू पूर्ववत जारी रहेगा।

तीसरी लहर से बचाव के लिये सतर्कता जरूरी

शनिवार शाम को वीडियो कांफ्रेंसिंग से प्रदेश के सभी 52 जिलों की कोरोना समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना गंभीर और खर्चीली बीमारियों में राहत के लिए मेकेनिज्म विकसित करें। कोरोना की तीसरी लहर की संभावना खत्म नहीं हुई है। ऐसे में तीसरी लहर से बचाव के लिए सतर्कता जरूरी है। मुख्यमंत्री ने बताया कि शनिवार को प्रदेश में कोरोना के 46 प्रकरण रिपोर्ट हुए हैं।

कुल 204 व्यक्ति डिस्चार्ज हुए हैं। वर्तमान में प्रदेश में 927 एक्टिव केस बचे हैं। यह स्पष्ट संकेत है कि कोरोना अब नियंत्रण में है। मध्यप्रदेश देश में 31 वें नम्बर पर है। सात दिन की पॉजिटिविटी दर 0.1 प्रतिशत है। इस स्थिति के बाद भी प्रदेश में कोरोना के टेस्ट कम नहीं होने दिये जायेंगे। प्रतिदिन 80 हजार टेस्ट आवश्यक रूप से किए जाएं। चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग भी बैठक में उपस्थित थे। बैठक में सभी कोविड प्रभारी मंत्री और अधिकारी वर्चुअली सम्मिलित हुए।

कोरोना से निपटने निजी क्षेत्र की भागीदारी महत्वपूर्ण

ल्यूपिन फाउंडेशन द्वारा मंडीदीप में बनाए गए 60 बिस्तरीय कोविड केयर सेंटर का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को वर्चुअली लोकार्पण किया। लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए प्रदेश में आवश्यक तैयारियां की जा रही हैं। जनसामान्य को कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

ऑक्सीजन बेड, बच्चों के आईसीयू वार्ड, उपकरण और आवश्यक सामग्री की सभी स्वास्थ्य संस्थाओं में पर्याप्त आपूर्ति की जा रही है। जनसहयोग और निजी क्षेत्र की भागीदारी भी प्राप्त हो रही है, जो महत्वपूर्ण है। मंडीद्वीप में ल्यूपिन फाउंडेशन द्वारा निर्मित यह कोविड केयर सेंटर निजी क्षेत्र की पहल का प्रमाण है।

Previous articleमेटाबॉलिज़्म बढ़ाने के लिए रोजाना खाली पेट पिएं नीम का जूस
Next articleतीसरी लहर के कारणों को समाप्त करना ही लक्ष्य : मुख्यमंत्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here