Home भोपाल खरीफ फसलों का समर्थन मूल्य बढऩे से सुधरेगी किसानों की आर्थिक स्थिति:...

खरीफ फसलों का समर्थन मूल्य बढऩे से सुधरेगी किसानों की आर्थिक स्थिति: विष्णुदत्त शर्मा

21
0

स्वदेश ब्यूरो, भोपाल।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि खरीफ फसलों के समर्थन मूल्य में 62 प्रतिशत तक की वृद्धि से किसानों की आर्थिक स्थिति और अधिक सृदृढ़ होगी। उन्होंने इस बढ़ोत्तरी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का आभार जताया।

श्री शर्मा ने एक बयान में कहा कि किसानों के हित में मोदी सरकार का यह अभूतपूर्व निर्णय है। श्री मोदी किसानों के हित में लगातार फैसले ले रहे हैं। खरीफ फ सलों के समर्थन मूल्य बढ़ाने से किसानों को लाभ होगा और उनकी मेहनत की सही कीमत मिलेगी। इससे फ सलों के विविधीकरण और दलहन-तिलहन का उत्पादन भी बढ़ेगा। केन्द्र सरकार द्वारा किसानों के हित में लिए गए इस फैसले पर प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने प्रदेश के किसानों को बधाई भी दी।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता वाली आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने कृषि उपज की सरकारी खरीद, सीजन 2021-22 के लिए सभी खरीफ फ सलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोत्तरी को स्वीकृति दे दी। बीते साल की तुलना में सबसे ज्यादा तिल यानी सेसामम (452 रूपये प्रति क्विंटल) और उसके बाद तुअर व उड़द (300 रूपये प्रति क्विंटल) के एमएसपी में बढ़ोत्तरी की सिफ ारिश की गई।

मूंगफ ली और नाइजरसीड के मामले में, बीते साल की तुलना में क्रमश: 275 रूपये और 235 रूपये प्रति क्विंटल की बढ़ोत्तरी, कपास, रामतिल, तिल, सोयाबीन, सूरजमुखी, मूंगफ ली, मूंग, रागी, ज्वार और सामान्य धान पर न्यूनतम समर्थन मूल्य में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है। इसी प्रकार ज्वार (मालदंडी) पर 51 प्रतिशत, धान (ग्रेड ए) पर 52 प्रतिशत, तुअर पर 62 प्रतिशत और बाजरा पर न्यूनतम समर्थन मूल्य में 85 प्रतिशत तक की वृद्धि की गई है।

Previous articleप्रदेश में सत्ता परिवर्तन की बात महज अफवाह: सिंधिया
Next articleईंधन तेल के बढ़ते दाम के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन आज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here