Home भोपाल भाई को नौकरी, परिवार को एक करोड़ रुपए देगी सरकार : शिवराज

भाई को नौकरी, परिवार को एक करोड़ रुपए देगी सरकार : शिवराज

30
0
  • सतना के शहीद कर्णवीर पंचतत्व में विलीन, मुख्यमंत्री हुए शामिल, दी श्रद्धांजलि
  • दिवंगत जवान के गांव में उनका स्मारक भी बनेगा


स्वदेश ब्यूरो, भोपाल

भारत माता की जय व कर्णवीर सिंह राजपूत अमर रहे के नारों के बीच सतना के अमर शहीद कर्णवीर का शुक्रवार को उनके गृह ग्राम दलदल में पूरे सैनिक सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शहीद की अंतिम यात्रा में शामिल हुए व पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने शहीद कर्णवीर के भाई को सरकारी नौकरी व परिजन को एक करोड़ रुपए की सम्मान निधि दिए जाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि शहीद की स्मृति में उनके गांव में स्मारक भी बनाया जाएगा। वहीं किसी एक संस्था का नाम भी शहीद कर्णवीर के नाम पर रखा जाएगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बलिदानी जवान के स्वजनों से मुलाकात क र उन्हें सांत्वना दी। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि देश जवानों के इस बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि शहीद कर्णवीर सिंह ने प्रदेश ही नहीं देश का नाम भी रोशन किया है।

उन्होंने अपने जन्म-दिवस के दिन भारत माता की सेवा करते हुए दो आतंकवादियों को ढेर किया। इस संघर्ष में उन्हें अपने प्राणों का बलिदान देना पड़ा। वह सदा-सदा के लिये अमर हो गए हैं। श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार शहीद के परिवार को हरसंभव सहयोग करेगी।

युवाओं में दिखा जोश

कश्मीर के शोपियां में दो दिन पहले आतंकवादियों से मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त 24 वर्षीय जवान कर्ण वीर की शहादत को लेकर युवाओं में पाकिस्तान के प्रति गहरा आक्रोश नजर आया। इन्होंने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। शहीद जवान को अंतिम सलामी देने जबलपुर से सेना की विशेष टुकड़ी भी पहुंची। वहीं इलाके के युवा भी बड़ी संख्या में शहीद की अंतिम यात्रा में शामिल हुए। गमगीन माहौल के बीच कर्णवीर सिंह के बड़े भाई शक्ति सिंह ने उन्हें मुखाग्नि दी।

शहीद का अंतिम संस्कार पूरे सैनिक सम्मान के साथ किया गया। इस दौरान सेना के जवानों ने उन्हें बंदूक से सलामी भी दी। कर्णवीर के पार्थिव शरीर को श्रीनगर से हवाई मार्ग द्वरा कल शाम प्रयागराज लाया गया था। जहां से सड़क मार्ग से सतना और फिर उनके गांव लाया गया।

ये भी हुए शामिल

शहीद के अंतिम संस्कार में पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल, भाजपा सांसद गणेश सिंह, रामपुर विधायक विक्रम सिंह विक्की, चित्रकूट विधायक नीलांशु चतुर्वेदी सहित सभी राजनीतिक दलों के नेता, कलेक्टर अजय कटेसरिया, पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह यादव सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि और नागरिक शामिल हुए।

Previous articleआईपीएल में टीम खरीद सकते हैं रणवीर-दीपिका
Next articleगरीबों की जिंदगी बदलने के लिए बना हूं मुख्यमंत्री : शिवराज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here