Home भोपाल निर्यात बढ़ाने बनेगी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल: शिवराज

निर्यात बढ़ाने बनेगी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल: शिवराज

20
0
  • एक जिला, एक उत्पाद में 64 उत्पादों का चयन
  • वाणिज्य उत्सव में मुख्यमंत्री की घोषणा
  • जिला स्तर पर होंगी कमेटियां

स्वदेश ब्यूरो, भोपाल।

प्रदेश में एक जिला-एक उत्पाद योजना अंतर्गत करीब 64 ऐसे उत्पादों का चयन किया गया है। जिनकी मांग देश-विदेश में खूब है। इनका निर्यात बढ़ाने राज्य सरकार एक सप्ताह में एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल गठित करेगी। मुख्यमंत्री इसके अध्यक्ष होंगे। यह काउंसिल हर जिले में होगी। यह काउंसिल एक जनवरी से काम शुरू कर देगी।

यह घोषणा बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मप्र ट्रेड पोर्टल के शुभारंभ अवसर पर कही। इसे वाणिज्य उत्सव नाम दिया गया। इसमें प्रदेशभर में हुए हजार करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण भी किया गया। आजादी के अमृत महोत्सव अंतर्गत आयोजित इस कार्यक्रम में श्री चौहान ने कहा कि अकेली सरकार, मुख्यमंत्री और मंत्री कुछ नहीं कर सकते। प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर को काबू पाने के लिए जनभागीदारी सुनिश्चित की गई। इससे नई बात पता चली कि अनुभवियों को जोड़ों और उनसे बात करो। सभी को सरकार का साथ देना होगा।

बेरोजगारी बड़ी समस्या, खोज रहे हैं समाधान

श्री चौहान ने कहा कि बेरोजगारी बड़ी समस्या है, उसका समाधान खोज रहे हैं। मध्य प्रदेश में उद्योग बढ़ाने होंगे। हम कई तरह के उत्पाद निर्यात करेंगे। एक जनवरी से निर्यात शुरू करने का लक्ष्य है। शहडोल में कोदो कुटकी, नीमच में एक कली का लहसुन का निर्यात कर सकते हैं। हम जरूरत के साथ निर्यात योग्य गुणवत्ता के सामान बनाएं। हम आज भी यह काम कर रहे हैं, पर इसे ताइवान की तर्ज पर करना होगा।

विकास हुआ, अब गुणवत्ता की जरूरत

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में निर्यात योग्य वस्तुओं का उत्पादन हो रहा है,लेकिन आगे निर्यात योग्य गुणवत्ता पर ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि प्रस्तावित काउंसिल इस कार्य में उत्पादकों व निर्यातकों का सहयोग करेगी। पर एक्सपोर्ट क्वालिटी पर काम करना है। एक हफ्ते में काउंसिल गठित हो जाएगी, ताकि निर्यात से जुड़ी छोटी-छोटी तकनीक पर ध्यान दिया जा सके। उन्होंने कहा कि इंटरनेशनल मार्केट का सर्वे जरूरी है। यह काम सरकार और बाजार, दोनों को मिल कर करना चाहिए।

हर जिले में एक्सपोर्ट प्रमोशन कमेटी बनेगी

मुख्यमंत्री ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा में उद्योगों को बनाए रखना होगा। हर जिले में एक्सपोर्ट कमेटी बनाएंगे। काउंसिल मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में होगी, क्योंकि कई बार मुख्यमंत्री की आंख का इशारा देखकर काम होता है। एयर कार्गो को लेकर भोपाल में काम करेंगे। जिन देशों-राज्यों ने अच्छा काम किया, उनसे सीखें। एक साल में परिणाम दें, जमाने की रफ्तार तेज है।

73 विकास कार्यों का वर्चुअल लोकार्पण

मुख्यमंत्री ने जन-कल्याण और स्वराज अभियान के तहत मिंटो हॉल में 1 हजार करोड़ से अधिक की लागत के 73 विकास कार्यों का वर्चुअल लोकार्पण किया। साथ ही, 402 शहरों को 15वें वित्त आयोग की अनुशंसा पर 299 करोड़ रुपए सिंगल क्लिक से वितरित किए। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बताया कि भोपाल और नर्मदापुरम संभाग में 13, इंदौर में 15, सागर में 2, जबलपुर में 17, उज्जैन में 19, रीवा में एक, ग्वालियर-चंबल में 6 विकास कार्यों का लोकार्पण किया गया है।

Previous articleवसूली मामले में परमबीर सिंह को नोटिस, 6 को बुलाया
Next articleफोरलेन फ्लाईओवर के निर्माणाधीन पिलर का ढांचा गिरा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here