Home भोपाल शराब के अवैध परिवहन मामले में विवादित अधिकारी संजीव दुबे की भोपाल...

शराब के अवैध परिवहन मामले में विवादित अधिकारी संजीव दुबे की भोपाल से रवानगी

6
0
  • ग्वालियर के अजय शर्मा को मिला दायित्व

स्वदेश ब्यूरो, भोपाल

शराब के अवैध परिवहन मामले व इससे पूर्व इंदौर में पदस्थापना के दौरान 41 करोड़ रुपए के ट्रेजरी चालान घोटाले में विवादित भोपाल के सहायक आबकारी आयुक्त संजीव दुबे को अंतत: हटा दिया गया है। उन्हें विभाग के ग्वालियर मुख्यालय पदस्थ किया गया है, जबकि वहां पदस्थ अजय शर्मा को भोपाल में पदस्थ किया गया है।

मंत्रालय सूत्रों के अनुसार संजीव दुबे को भोपाल में शराब के अवैध परिवहन की शिकायतों के चलते हटाया गया है। विधानसभा के बजट सत्र में कांग्रेस ने ध्यानाकर्षण के माध्यम से राजधानी में अवैध शराब के परिवहन का मामला उठाया था। पूर्व मंत्री पी.सी. शर्मा के अलावा भाजपा के विधायकों ने सदन में कहा था कि भोपाल में आबकारी अधिकारियों के संरक्षण में अवैध शराब बेची जा रही है। सरकार की तरफ से वाणिज्यिक कर मंत्री जगदीश देवड़ा ने तब आरोपों को खारिज कर दिया था, लेकिन इसके बाद से ही संजीव सरकार के निशाने पर थे। वह विवादित रहे हैं।

चार साल पहले इंदौर में हुए 41 करोड़ के फ र्जी ट्रेजरी चालान मामले में भी उनका नाम आया था। उस समय सरकार ने उन्हें इंदौर से हटाकर धार में पदस्थ कर दिया था। शिवराज सरकार के तीसरे कार्यकाल में संजीव दुबे धार में पदस्थ किए गए थे, लेकिन कमलनाथ सरकार के दौरान सितंबर 2019 में दुबे और व्हिसल ब्लोअर डॉ. आनंद राय का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इसमें दोनों की बातचीत में आबकारी आयुक्त ने जिले के दो कांग्रेस विधायक और एक मंत्री द्वारा शराब ठेकेदारों से लाखों रुपए मांगने का आरोप लगाया था। जब सरकार ने उन्हें तत्काल हटाकर जांच के आदेश दिए थे। इस कथित बातचीत में दुबे वन मंत्री उमंग सिंघार, विधायक राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव व हीरालाल अलावा को 15 से 20 लाख रुपए देने की बात कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here