Home भोपाल बिगड़े हालात: एम्स में स्ट्रेचर, व्हीलचेयर पर ऑक्सीजन के सहारे कोरोना मरीज...

बिगड़े हालात: एम्स में स्ट्रेचर, व्हीलचेयर पर ऑक्सीजन के सहारे कोरोना मरीज भर्ती होने कर रहे इंतजार

12
0
  • शहर में मरीजों को नहीं मिल रहे ऑक्सीजन युक्त बिस्तर, सबसे बड़ा संकट बने वेंटिलेटर


भोपाल। कोरोना के कारण पूरे शहर में कोहराम मचा हुआ है। मरीजों को अस्पतालों में ऑक्सीजन सुविधा युक्त बिस्तर नहीं मिल पा रहे हैं। ऐसे में गंभीर मरीजों को अपना जीवन बचाने के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर के सहारे रहकर बिस्तर खाली होने का इंतजार करना पड़ रहा है। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स भोपाल) में कोरोना के गंभीर मरीजों का हाल ऐसा है कि कोविड इमरजेंसी परिसर में मरीज ऑक्सीजन सिलेंडर के सहारे स्ट्रेचर, व्हीलचेयर और कुर्सी पर ही ऑक्सीजन लगाकर जगह मिलने का इंतजार करते देखे जा रहे हैं। डॉक्टरों की मानें तो वे यहां पहुंचे हर मरीज को भर्ती करने और सुरक्षित उपचार के लिए प्रयास करते हैं लेकिन बिस्तरों व वेंटिलेटर की कमी बड़ी चुनौती बन रही है।

मरीजों के परिजनों से लिखवा रहे ऑक्सीजन की कमी से कुछ समस्या तो हम जिम्मेदार

कोरोना के इलाज में सबसे अहम ऑक्सीजन की किल्लत लगातार बढ़ रही है। इसी के चलते एमस भोपाल में कोरोना मरीजों के परिजनों से एक लिखित सहमति पत्र लिया जा रहा है कि यदि ऑक्सीजन की कमी के कारण मरीज की मृत्यु होती है तो अस्पताल प्रबंधन और डॉक्टर इसके लिए जिम्मेवार नहीं होंगे। इधर एम्स प्रबंधन का कहना है कि व्यवस्था जिला प्रशासन के अधिकारी देख रहे हैं ऐसे में इन सवालों के जवाब भी वही देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here