Home भोपाल कोरोना की नई गाइड लाइन जारी, मप्र के 4 और शहरों में...

कोरोना की नई गाइड लाइन जारी, मप्र के 4 और शहरों में भी रहेगा रविवार को लॉकडाउन

78
0
  • रोज 20 से ज्यादा प्रकरण वाले शहरों में सार्वजनिक कार्यक्रम प्रतिबंधित
  • लॉकडाउन वाले शहर-भोपाल, इंदौर, जबलपुर, बैतूल, छिंदवाड़ा, खरगोन व रतलाम

स्वदेश ब्यूरो, भोपाल

राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए कोविड की नई गाइडलाइन जारी की है। इसके अनुसार अब भोपाल, इंदौर व जबलपुर के अलावा अन्य चार शहर बैतूल, छिंदवाड़ा, खरगोन व रतलाम में भी रविवार को लॉकडाउन रहेगा। इसके अलावा औसतन बीस से ज्यादा प्रकरण वाले शहरों में मृत्यु भोज, उठावना जैसे कार्यक्रम प्रतिबंधित रहेंगे, वहीं शादी समारोह, शवयात्रा में भी संख्या सीमित की गई है।

गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. राजेश राजौरा के हस्ताक्षर से जारी इस गाइड लाइन में कहा गया कि उक्त शहरों में रविवार का लॉकडाउन शनिवार रात दस बजे से सोमवार की सुबह छह बजे तक होगा। इस दौरान औद्योगिक इकाईयों के श्रमिकों, कच्चे माल का परिवहन, बीमार व्यक्ति के अस्पताल एवं एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन जाने-आने वाले यात्रियों को छूट रहेगी। इन शहरों में आगामी 31 मार्च तक स्कूल, कालेज बंद रहेंगे, लेकिन पूर्व निर्धारित परीक्षाएं हो सकेंगी।

खुलेंगे कोषालय व रजिस्ट्री ऑफिस

आगामी रविवार 28 मार्च को कोषालय व रजिस्ट्री कार्यालय खुले रहेंगे। इन कार्यालयों से संबंधित अधिकारी, कर्मचारियों एवं विभागीय कामकाज से जाने वालों को आने-जाने की छूट रहेगी।

मृत्युभोज एवं उठावना जैसे आयोजन होंगे प्रतिबंधित

गाइड लाइन में कहा गया कि ऐसे शहर जहां कोरोना संक्रमण के नए प्रकरणों की संख्या साप्ताहिक आधार पर औसतन बीस या इससे अधिक है,वहां मृत्यु भोज,उठावना,रेस्तरां में बैठकर भोजन करना जैसे कार्य प्रतिबंधित होंगे। रेस्तरां से भोजन पैक करवाकर ले जाने पर छूट होगी।

शादी में 50 से अधिक लोग नहीं

औसतन बीस या इससे अधिक प्रकरणों वाले शहरों में आगामी आदेश तक सिनेमा घर, स्विमिंग पूल बंद रहेंगे। धार्मिक स्थलों को बंद करने का निर्णय स्थानीय स्तर पर लिया जा सकेगा। इन शहरों में रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक बाजार बंद होंगे, जबकि शादी समारोह में अधिकतम 50 व अंतिम संस्कार में 20 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। बीस से कम प्रकरण वाले स्थानों पर गत 22 मार्च को जारी नियम लागू होंगे।

Previous articleभाजपा नेता मुकुल रॉय की सुरक्षा बढ़ाकर जेड श्रेणी की, कल थम जाएगा बंगाल विस चुनाव के पहले चरण का शोर
Next articleशिवराज कैबिनेट का फैसला: प्रदेश की 6876 अवैध कॉलोनियां होंगी नियमित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here