Home भोपाल सीएम शिवराज सिंह चौहान ने किया 550 स्वास्थ्य केंद्रों पर टेलीमेडिसिन सेवा...

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने किया 550 स्वास्थ्य केंद्रों पर टेलीमेडिसिन सेवा का शुभारंभ

9
0

भोपाल। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल के मिंटो हाल में आयोजित कार्यक्रम से प्रदेशभर में 550 स्वास्थ्य केंद्रों पर विशेषज्ञ टेलीमेडिसिन सेवा का शुभारंभ किया। सीएम ने इसके साथ सुरक्षित मातृत्व के लिये इंटीग्रेटेड कंट्रोल एण्ड कमांड सेंटर (सुमन) का शुभारंभ किया और कायाकल्प अवार्ड की विजेता चिकित्सा संस्थाओं को पुरस्कार वितरित किए। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री डा. प्रभुराम चौधरी भी उपस्थित रहे। कटंगी के अनुपम जैन ने मुख्यमंत्री को बताया कि पहले हर 15 दिन में जबलपुर जाना पड़ता था, लेकिन अब ये सुविधा यहीं आ गई तो अब व्यवस्था ज्यादा सुलभ है। उपस्थित डॉक्टरों ने बताया कि इस सुविधा से मरीज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सीधा विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श ले सकतें हैं। सीएम शिवराज के पूछने पर डॉक्टरों ने बताया कि टेलेमेडिसिन सेवा और आमने सामने परामर्श में कोई अंतर नहीं है। डॉक्टर तकनीक के माध्यम से बेहतर इलाज करने में सक्षम है। इसके बाद उन्होंने बधाई देते हुये कहा कि तकनीक के इस युग मे आज हम कहीं से भी बैठ कर इलाज़ प्राप्त कर सकते है और अब दूर दराज स्थित मरीजों का इलाज संभव है।

सीएम कार्यक्रम के मंच से कहा कि मुझे पूरा विश्वास है हम कोरोना को हराएंगे और मानवता जीतेगी। पर मैं आपको सतर्क करना चाहूंगा की लापरवाही नहीं करना है वरना हम बड़ी समस्या में फंस सकते हैं। मास्क लगाइए, दो गज की दूरी रखिये और सैनिटाइजर का प्रयोग करिए। सुरक्षित माताओं के लिए सुमन एक बहुत बड़ी पहल है। मैं विभाग को बधाई देता हूं इस नवाचार के लिए। माताएं सुरक्षित हों ये हमारा प्रथम प्रयास है। उन सभी संस्थाओं को बधाई जिन्होंने कायाकल्प अवॉर्ड जीते हैं, आपका बेहतरी का प्रयास निरंतर जारी रहे। उन्होंने कहा, अलग-अलग त्योहार आ रहे हैं। अपने लिए अपने परिवार के लिए अपने आप को सुरक्षित रखिए, इसलिए इस बार मेरी होली मेरे घर। चाहे कोई भी त्योहार हो, ये आपद्धर्म है, सीमित संख्या में परंपरा का निर्वाह करें।

कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने में आपसे सहयोग चाहिए। मास्क लगाइए, शारीरिक दूरी बना कर रखिए और सैनिटाइजर का प्रयोग करिए। आपसे इतना ही आग्रह है। सीएम ने कहा, अस्पतालों में भर्ती होने का संकट हो ऐसी स्थिति हम कभी नहीं आने देंगे। लेकिन मैं आपको विश्वास दिलाना चाहता हूं कि इस संकट से भी हम निपट लेंगे और पार लेकर जाएंगे। घरेलू हिंसा के खिलाफ कठोर कानून बनेगा। हमीदिया अस्पताल के डाक्टरों को बधाई देता हूँ उन्होंने घरेलू हिंसा की शिकार बहन के कटे हुए हाथ को कुशलता के साथ ठीक किया। उन्होंने कहा कि, मुझे गर्व ये कहते हुए कि कोविड 19 के समय में हमारे डाक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ ने महर्षि दधीचि जैसी त्याग और तपस्या का उदाहरण दिया है। कोरोना वारियर्स को शीश झुकाकर नमन जिन्होंने समाज की सेवा करते हुए प्राणोत्सर्ग किया, उनको हृदय से सम्मान जो अभी भी मानवता की सेवा में लगे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here