Home भोपाल रेलवे कोच की मौत हत्या या आत्महत्या, स्पष्ट नहीं, भुवनेश्वर में फंदे...

रेलवे कोच की मौत हत्या या आत्महत्या, स्पष्ट नहीं, भुवनेश्वर में फंदे पर लटका मिला था शव, बुधवार को किया अंतिम संस्कार

11
0

भोपाल। भारतीय रेलवे की राष्ट्रीय वॉलीबॉल टीम के कोच और भोपाल डीआरएम कार्यालय में पीआरडी विभाग के कार्यालय अधीक्षक की मौत आत्महत्या और हत्या में उलझी हुई है। सोमवार को कोच राजेश तिवारी का शव फंदे पर झूलता हुआ मिला था। घटना भुवनेश्वर के इंफोसिटी थाना क्षेत्र के एक हॉस्टल में हुई थी। राजेश का परिवार भोपाल की आधारशिला कॉलोनी में रहता है। बुधवार को उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया है। भुवनेश्वर पुलिस मामले की जांच कर रही है। अभी तक 1 दर्जन से अधिक लोगों से पूछताछ की जा चुकी है। कोच राजेश तिवारी की मौत को लेकर अभी भुवनेश्वर पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है। पुलिस हत्या या आत्महत्या दोनों बिंदुओं पर जांच कर रही है। परिजनों ने कहा है कि वे राष्ट्रीय कोच थे और सकारात्मक जीवन जीने वाले व्यक्ति थे। वे खुद से कभी फांसी नहीं लगा सकते थे। परिजनों ने पुलिस व रेलवे से मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है। भुवनेश्वर के इंफोसिटी पुलिस थाने के एएसआई एचके बेहरा ने बताया कि राजेश तिवारी अपने दो साथी कप्तान सिंह और कपिल देव के साथ किटी कैम्पस के एक होस्टल में ठहरे हुए थे। पूछताछ में पता चला कि सोमवार उसके दोनों साथी खाना खाने गए थे, लौटे तो अंदर से दरवाजा लगा था। खिड़की तोडऩे पर उनका शव पंखे में लटका हुआ था। सभी पक्षों के बयान लिए जा रहे हैं। कॉल डिटेल रिपोर्ट मंगवाई गई है, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here