Home » मुख्यमंत्री शिवराज ने भोपाल में पांच अलग-अलग स्थानों पर भरवाएं महिलाओं के फार्म

मुख्यमंत्री शिवराज ने भोपाल में पांच अलग-अलग स्थानों पर भरवाएं महिलाओं के फार्म

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को लाड़ली बहना योजना की मैदानी हकीकत देखने स्वयं मैदान में उतरे। मुख्यमंत्री शुक्रवार सुबह भोपाल के पांच अलग-अलग कॉलोनियों में वहां पहुंचे, जहां लाड़ली बहना योजना के फार्म भरवाए जा रहे थे। मुख्यमंत्री ने महिलाओं से संवाद करते हुए कहा कि जब तक मेरी सांस चलेगी, बहनों की भलाई करता रहूंगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने वार्ड और पंचायत स्तर तक लाड़ली बहना सेना बनाने की घोषणा की है। टीला जमालपुरा में महिलाओं से संवाद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हम हर वार्ड में एक लाडली सेना बनाएंगे, जो बहनों के साथ होने वाले अन्यायों पर नजर रखेगी। सावन में भाई एक बार अपनी बहनों को राखी बांधने पर कुछ देते हैं। मैं भी आपका सगा भाई हूं, लेकिन लगा कि एक बार कुछ देने से नहीं चलेगा, हर महीने कुछ न कुछ देना होगा। 1 करोड़ 20 लाख से ज्यादा बहनें अभी तक आवेदन भर चुकी हैं। इस हिसाब से लगभग 15-16 हजार करोड़ रुपये इस योजना पर खर्च होंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के साथ ही हमने तय किया कि गरीब बेटियों की शादी सरकार कराएगी, इसके लिए मुख्यमंत्री कन्या विवाह और निकाह योजना बनाई, इसमें 49 हजार रुप ये का चेक दिया जाता है। इसके बाद लाड़ली लक्ष्मी योजना बनाई ताकि बेटियों की पढ़ाई लिखाई जैसी चीजों की चिंता माता-पिता नहीं, मामा करेगा।

इन महिलाओं के फार्म मुख्यमंत्री ने भरवाए

मुख्यमंत्री ने ईदगाह हिल्स स्थित वार्ड क्रमांक 10 के योग केन्द्र में नाजिया,  संतोष तथा प्रीति मेहरा के आवेदन भरवाए। वार्ड क्रमांक 13 टीला जमलापुरा के शॉपिंग सेंटर में लगे केम्प में शिल्पी सिसोदिया तथा आयशा खान तथा वार्ड 25 बरखेड़ी के रशीदिया स्कूल में पूजा और सविता चंद्रवंशी के फार्म भरवाए। इसके बाद उन्होंने वार्ड-47 पंचशील नगर के कैम्प में छाया बोरसे, शिवानी धनेलिया और वार्ड 32 सुनहरी बाग केम्प में अनिता निकम तथा बरखा तोमर के फार्म स्वयं भरवाए हैं।

‘बिछा दो अपनी पलकों को -कि मेरे भईया जी आए हैंÓ

शुक्रवार सुबह लाड़ली बहना योजना की मैदानी हकीकत देखने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जब ईदगाह हिल्स योग केंद्र पहुंचे तो वहां एकत्रित लाड़ली बहनों ने भाव-विभोर होकर आत्मीय स्वागत किया। ईदगाह हिल्स स्थित योग केन्द्र में बहनों ने स्वस्ति-वाचन के साथ तिलक कर मुख्यमंत्री का स्वागत किया। टीला जमालपुरा स्थित केम्प में बहनों ने घर के बनाए पकवान खिला कर तथा ‘बिछा दो अपनी पलकों को-कि मेरे भईया जी आए हैंÓ गीत गाकर मुख्यमंत्री का स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने भी ‘फूलों का तारों का सबका कहना है -एक हजारों में मेरी बहना हैÓ गीत गाकर बहनों का उत्साहवर्धन किया।

रशीदिया स्कूल में उतारी नजर

मुख्यमंत्री चौहान के रशीदिया स्कूल पहुंचने पर स्थानीय निवासी नगीना अफरोज ने मुख्यमंत्री की नजर उतारी। अफरोज ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान ने बहनों की बेहतरी के लिए कई योजनाएं और कार्यक्रम आरंभ किए हैं। वे ऐसे ही ‘पिरयासÓ करते रहें, उन्हें किसी की नजर न लगे। महिलाओं ने मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना पर केन्द्रित गीत ‘जब कोविड पड़ो भारी, भईया तुमने न हिम्मत हारी, ई-केवायसी करवा लो प्यारी, लिंक करवा लो जाको आधार से, भईया जी तो है बड़े काम केÓ गाकर मुख्यमंत्री का स्वागत किया।

महिलाओं को राजनीति में भागीदारी दी

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने पंचायत चुनाव में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण दिया, ताकि महिलाएं नेतृत्व करने आगे आ सकें। इसी तरह बहनों के नाम पर संपत्ति खरीदने पर सम्पत्ति कर 1 प्रतिशत करने का फैसला किया। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत दिये जाने वाले मकानों और पट्टों में भी पति और पत्नी दोनों का नाम रहेगा। बेटियां पुलिस में आ सकें, इसलिये बेटियों को 30 प्रतिशत आरक्षण देने का काम किया। मेरी गरीब और निम्न मध्यम वर्गीय बहनें छोटी छोटी जरूरतों के लिए परेशान होती रहती थीं। तब मेरे मन में आया कि बहनों के लिए कुछ करना चाहिए।

Related News

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd