Home भोपाल 50 दिन बाद राजधानी के बाजारों में चहल-पहल, निगरानी के लिए 118...

50 दिन बाद राजधानी के बाजारों में चहल-पहल, निगरानी के लिए 118 टीमें तैनात

19
0
न्यू मार्केट में किराने की दुकान में खरीददारी करते लोग

दो हजार पुलिसकर्मी डेढ़ सौ विशेष पाइंट पर रहेंगे तैनात, नियम तोडऩे पर कटेगा चालान
भोपाल।
कोरोना की दूसरी लहर में राजधानी भोपाल में कोलार और शाहपुरा थाना क्षेत्र में 9 अप्रैल से कोरोना कफ्र्यू लागू किया गया, वहीं पूरे भोपाल जिले में 12 अप्रैल से कोरोना कफ्र्यू लगाया गया। ऐसे में आज एक जून से दिन में जब कोरोना कफ्र्यू में ढील देकर बाजार खोले गए हैं तो यहां करीब 50 दिन बाद बाजारों में चहल पहल बढ़ी है। हालांकि आज शाम तक या एक-दो दिन में बाजारों में रौनक बढ़ेगी। अभी संक्रमण को रोकने के लिए जरूरी वस्तुओं को खोलने का आदेश जारी किया गया है। कपड़ा, जूते, ज्वैलरी और अन्य तरह की दुकानें बंद हैं। बताया जाता है कि प्रशासन जल्द ही नए दिशा निर्देश जारी कर सप्ताह में कुछ दिन या कुछ घंटों के लिए सभी तरह की दुकानें खोलने की योजना भी बना रहा है। हालांकि बाजार पूरी तरह से 15 जून के पहले खुलने की संभावना नहीं है।

बाजार खुलने और दिन का कफ्र्यू हटने के बाद अचानक से सड़कों पर लोगों का हुजूम उमड़ेगा। बाजारों में खरीददारी के लिए एक साथ लोग आएंगे। पिकनिक स्पॉट बंद हैं, लेकिन वन विहार खुला होने से लोग घूमने भी बाहर निकलेंगे। एक साथ छह से अधिक लोगों को बिना पूर्व अनुमति एकत्रित होने पर पाबंदी लगी हुई है। ऐसे में बाजार व सड़कों पर कोरोना गाइड लाइन का पूरा पालन हो, प्रशासन ने इसके लिए पूरे इंतजाम किए हैं। भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने राजस्व, नगर निगम और अन्य विभागों के अधिकारी-कर्मचारियों को मिलाकर 118 टीमें तैनात कर दी हैं। एक टीम में तीन से पांच कर्मचारी शामिल किए गए हैं। एक टीम को एक बाजार की निगरानी की जिम्मेदारी दी गई है। यह टीम दुकान संचालकों और ग्राहकों को कोरोना गाइडलाइन का पालन कराएगी। गाइडलाइन का पालन नहीं करने वाले लोगों पर मामला भी दर्ज किया जाएगा।

इसी तरह भोपाल डीआईजी इरशाद वली ने थाना पुलिस, यातायात और अतिरिक्त बल मिलाकर करीब दो हजार पुलिसकर्मियों को डेढ़ सौ से अधिक चैकिंग पाइंट पर कोरोना गाइड लाइन का पालन करने के लिए तैनात किए हैं। कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत 2 गज की दूरी, फेस मास्क, गोले, रस्सी, सैनिटाइजर जैसे नियमों का पालन करने के लिए राजस्व, पुलिस और नगर निगम की संयुक्त कोरोना सुरक्षा टीमों का गठन किया गया है। सभी दल अपने-अपने क्षेत्र के अनुमंडल पदाधिकारी (राजस्व) के मार्गदर्शन में कार्य करेंग। अनुविभागीय अधिकारी दिन-प्रतिदिन की कार्रवाई की जानकारी कलेक्टर को लिखित में देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here