Home लाइफ स्टाइल प्रेग्नेंसी में सिगरेट पीने पर नवजात को जन्मजात हृदय रोग का खतरा,...

प्रेग्नेंसी में सिगरेट पीने पर नवजात को जन्मजात हृदय रोग का खतरा, वैज्ञानिकों की सलाह; स्मोकिंग जितना जल्द छोड़ें उतना बेहतर है

13
0

लाइफ स्टाइल| बच्चे में जन्मजात हृदय रोग होने की एक वजह मां का धूम्रपान करना भी हो सकता है। ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी की हालिया रिसर्च कहती है, प्रेग्नेंसी के दौरान महिला के धूम्रपान करने का सीधा असर कोख में पल रहे बच्चे पर हो सकता है। जन्म के समय उसे हृदय रोग हो सकता है। इसलिए धूम्रपान को जितना जल्द छोड़ दें उतना बेहतर है।

2.30 लाख परिवारों पर हुई रिसर्च
यह रिसर्च ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी ने सात अंतरराष्ट्रीय संस्थानों के साथ मिलकर की है। शोधकर्ताओं ने ब्रिटेन, आयरलैंड, नीदरलैंड, डेनमार्क, नार्वे और इटली के करीब दो लाख तीस हजार से अधिक परिवार के डाटा का विश्लेषण किया। रिसर्च में जन्मजात हृदय रोगों पर मां के बॉडी मास इंडेक्स, स्मोकिंग और धूम्रपान करने की आदत को समझा गया।

दुनियाभर में धूम्रपान के मामले रोकने की जरूरत
शोधकर्ता देबोरेह लॉलर का कहना है, अधिक आय वाले देशों में अभी भी धूम्रपान करने की दर ज्यादा है। इतना ही नहीं, निम्न और मध्यम आय वाले देशों में धूम्रपान के मामले बढ़ रहे हैं। रिसर्च के नतीजे बताते हैं कि दुनियाभर में स्मोकिंग की आदत को रोकने की जरूरत है

ब्रिटेन में रोजाना जन्म लेने वाले 13 बच्चे हृदय रोगी
रिसर्च रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिटेन में रोजाना करीब 13 बजे जन्मजात हृदय रोग से पीड़ित होते हैं। इसकी सीधी वजह है कि मां की कोख में हृदय और रक्तवाहिनियां ठीक से विकसित नहीं हो पा रही हैं। इनके कारणों का पता लगाकर जन्मजात रोगों को रोक सकते हैं और जिंदगियां बचाई जा सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here