व्लादिमीर पुतिन बोले- कजाखस्तान में हम जीत गए, अलमाटी में तेजी से हालात हो रहे सामान्य

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

अलमाटी (कजाखस्तान) । रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि हमने विदेश समर्थित आतंकियों, अपराधियों और लुटेरों पर जीत हासिल कर ली है, कजाखस्तान बच गया है। उन्होंने कजाख नेतृत्व को आश्वस्त किया कि उनकी सुरक्षा के लिए रूस के नेतृत्व वाला गठबंधन संकल्पबद्ध है। सोमवार को कजाखस्तान के सबसे बड़े शहर अलमाटी में गतिविधियां काफी हद तक सामान्य रहीं। यह शहर हफ्ते भर हुई हिंसा में सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ था। देश के अस्तित्व में आने के 30 साल में यह सबसे भीषण हिंसा थी।

हिंसा में शामिल होने के शक में आठ हजार गिरफ्तार

अलमाटी में आगजनी से बर्बाद हुई इमारतों का मलबा और जली हुई कारों को हटाए जाने का काम दिन भर जारी रहा। इस दौरान सरकारी कार्यालय और व्यापारिक प्रतिष्ठान खुले। सड़कों पर आवागमन भी सामान्य रहा। लोगों ने घरों से बाहर आकर जरूरत का सामान खरीदा और हिंसा से निजात मिलने पर राहत की सांस ली। इस बीच हिंसा के लिए जिम्मेदार लोगों की धरपकड़ के लिए सुरक्षा बलों का अभियान जारी है। अभी तक करीब आठ हजार लोग गिरफ्तार किए गए हैं। हिंसा में मारे गए लोगों के प्रति सोमवार को शोक जताया गया।

कोशिश को नाकाम करने में हम रहे सफल: पुतिन

रूस के नेतृत्व वाले गठबंधन सीएसटीओ के नेताओं के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग में पुतिन ने कहा- कजाखस्तान की बुनियाद को हिलाने की कोशिश को नाकाम करने में हम सफल रहे। कजाखस्तान को अस्थिर करने का प्रयास क्षेत्र में न तो पहला है और न आखिरी। हमें इसी तरह से तैयार रहना है। किसी भी बाहरी ताकत के खिलाफ एकजुट होकर कार्रवाई करनी है जिससे उसे यहां पर अराजकता फैलाने का मौका न मिले। इस दौरान कजाखस्तान के राष्ट्रपति कासिम-जोमार्ट टोकायेव ने कहा- तख्तापलट की साजिश विफल कर दी गई है। अब हम पूरी तरह से सुरक्षित हैं। इससे पहले रूस ने आरोप लगाया था कि कजाखस्तान पश्चिमी साजिश का ताजा शिकार है। इससे पहले जार्जिया, यूक्रेन, किर्गिस्तान और आर्मेनिया को पश्चिमी ताकतों ने निशाना बनाया था।

इस बीच चीन के विदेश मंत्री वांग ई ने कजाखस्तान में बाहरी हस्तक्षेप की निंदा करते हुए उसकी सुरक्षा में सहयोग का प्रस्ताव किया है। उल्लेखनीय है कि तेल, यूरेनियम और बहुमूल्य खनिजों से संपन्न कजाखस्तान चीन का पड़ोसी देश है।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Recent News

Related News