Home विदेश पाकिस्तान ने किया 900 किलोमीटर मारक क्षमता वाली बैलिस्टिक मिसाइल का सफल...

पाकिस्तान ने किया 900 किलोमीटर मारक क्षमता वाली बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण, परमाणु क्षमता से लैस शाहीन 1ए

13
0
shaheen-missile.jpg

पाकिस्तान (Pakistan) ने 450 किलोमीटर तक के लक्ष्य को भेदने में सक्षम सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइल (Missile) का फरवरी में सफल परीक्षण (Successful Test) किया था.

पाकिस्तान (Pakistan) ने शुक्रवार को परमाणु हथियार (Nuclear Weapon) ले जाने में सक्षम सतह से सहत तक मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन 1ए (Ballistic Missile Shaheen 1A) का सफलतापूर्वक परीक्षण किया. पाकिस्तानी सेना (Pakistani Army) ने इसकी जानकारी दी. पाकिस्तानी सेना के मीडिया विंग इंटर-सर्विस पब्लिक रिलेशंस (ISPR) ने एक बयान में कहा कि यह मिसाइल 900 किलोमीटर तक लक्ष्य को सफलतापूर्वक निशाना बना सकती है.

आईएसपीआर के अनुसार शाहीन 1-ए अपनी शानदार तथा उन्नत मार्गदर्शक प्रणाली के चलते बेहद सटीक मिसाइल प्रणाली है. इस परीक्षण को रणनीतिक योजनाओं के वरिष्ठ अधिकारी, रणनीतिक बलों, वैज्ञानिकों और रणनीतिक संगठनों के इंजीनियरों ने देखा. स्ट्रेटेजिक प्लान्स डिवीजन के डायरेक्टर जनरल, लेफ्टिनेंट जनरल नदीम जकी मंज ने इस सफल परीक्षण के लिए वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को बधाई दी.

फरवरी में भी किया था परीक्षण

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी और प्रधानमंत्री इमरान खान ने सेना के मिसाइल परीक्षण के सफल आयोजन पर वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को बधाई दी. सेना ने कहा कि फरवरी में पाकिस्तान ने परमाणु क्षमता से लैस सतह से सतह मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया, जो 290 किलोमीटर तक के लक्ष्य को भेद सकती है.

पाकिस्तान ने 450 किलोमीटर तक लक्ष्य को भेदने में सक्षम सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइल का भी फरवरी में सफल परीक्षण किया था. सेना ने एक बयान में कहा था कि बाबर मिसाइल पूरी सटीकता के साथ जमीन और समुद्र में लक्ष्य को भेदने में सक्षम है. अत्याधुनिक मल्टी ट्यूब परीक्षण वाहन से मिसाइल दागी गई थी.

बाबर क्रूज मिसाइल की मारक क्षमता 450 किलोमीटर

बयान में कहा गया था कि बाबर क्रूज मिसाइल 450 किलोमीटर तक निशाना भेदने में सक्षम है. परीक्षण के दौरान वरिष्ठ वैज्ञानिक और रक्षा अधिकारी भी मौजूद थे. उन्होंने सैन्य रणनीतिक बल के प्रशिक्षण और संचालन तैयारियों के मानकों की सराहना की. सेना ने कहा कि राष्ट्रपति आरिफ अल्वी, प्रधानमंत्री इमरान खान, ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी के अध्यक्ष जनरल जुबैर महमूद हयात ने मिसाइल के कामयाब परीक्षण में हिस्सा लेने वाले कर्मियों को मुबारकवाद दी.

फरवरी में हुआ ये मिसाइल परीक्षण तीन हफ्ते में तीसरा कामयाब परीक्षण था. इससे पहले तीन फरवरी को पाकिस्तान सेना ने परमाणु क्षमता से संपन्न 290 किलोमीटर तक सतह से सतह पर मार करने में सक्षम बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया था. पाकिस्तान ने 20 जनवरी को परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन-तीन का परीक्षण किया था. यह मिसाइल 2750 किलोमीटर तक निशाने को भेद सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here