अमेरिकी-भारतीय कम्युनिटी के नेता का प्रस्ताव , अब से बाइडेन के भाषण का होगा हिंदी में अनुवाद

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

राष्ट्रपति कार्यालय में प्रेजिडेंशियल कमिशन ने अपने विचार सामने रखते हुए कहा कि अमेरिका की राजनीति में लगातार एशियाई मूल के लोगो की भूमिका बढ़ रही हैं । जिसके कारण अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन के भाषणों को हिंदी और दूसरी एशियाई भाषाओं में ट्रांसलेट करने की मांग की जा रही है।

America: मध्यावधि चुनाव को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन का भाषण, कहा-  हम जीत रहे हैं - America republican party joe biden midterm closing argument

अमेरिका की राजनीति में एशियाई लोगो की दिलचस्पी को देखते हुए कहा जा रहा हैं कि राष्ट्रपति के भाषण उनकी भाषाओं में मौजूद होने चाहिए। फिलहाल राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के भाषण केवल अंग्रेजी में होते हैं। जिसके चलते उनके संदेश 2 करोड़ से ज्यादा लोगों तक उनकी मूल भाषा में नहीं पहुंच पाता है। राष्ट्रपति के एडवाइजरी कमिशन के सामने यह प्रस्ताव अमेरिकी- भारतीय कम्युनिटी के नेता अजय जैन भुटोरिया ने रखा था। जिसे कमिशन ने स्वीकार कर लिया। एक बैठक में प्रेजिडेंशियल कमिशन ने सुझाव दिया है कि भाषणों को हिंदी और एशियाई भाषाओं में ट्रांसलेट करने का काम 3 महीने में शुरू कर दिया जाना चाहिए। कमिशन ने भाषणों को हिंदी, चीनी, कोरियन, वियतनमीज, मैंडरिन और फिलीपींस में बोली जाने वाली भाषा टगालोग में ट्रांसलेट करने को कहा है।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News