Home विदेश म्‍यांमार के बाद जॉर्डन की सेना ने प्रिंस हमजा को किया नजरबंद,...

म्‍यांमार के बाद जॉर्डन की सेना ने प्रिंस हमजा को किया नजरबंद, चिंतित है US

30
0

अम्‍मान। जॉर्डन दुनिया के उन मुल्‍कों में शामिल हैं, जहां शाही परिवार का शासन है। जॉर्डन के शाही परिवार के लिए यह साल अच्‍छा नहीं रहा। उसे कई दिक्‍कतों का सामना करना पड़ा है। म्‍यांमार में सैन्‍य तख्‍तापलट के बाद जॉर्डन की सेना ने नाटकीय ढंग से प्र‍िंस हमजा को नजरबंद किया है। हालांकि, म्‍यांमार की तरह जॉर्डन की सेना ने भी पहले प्रिंस हमजा को नजरबंद किए जाने से इंकार किया था। जॉर्डन में राजनीतिक अस्थिरता से अमेरिका चिंतित है।

कौन है प्र‍िंस हमजा

हमजा जॉर्डन के दिवंगत किंग हुसैन और उनकी पंसदीदा पत्‍नी क्वीन नूर के सबसे बड़े बेटे हैं। वह दिवंगत किंग हुसैन के बहुत प्रिय थे। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि किंग हुसैन हमजा को अपनी आंखों का सुकून कहते थे। वर्ष 1999 में जॉर्डन के क्राउन प्र‍िंस हमजा को यह उपाधि दी गई थी। किंग हुसैन की मौत के वक्‍त उन्‍हें राजशाही के लिए अनुभवहीन समझा गया था। इसलिए जब वह किंग हुसैन के उत्‍तराधिकारी बने तो कई तरह के सवाल भी उठाए गए। इसके बाद किंग अब्‍दुल्‍ला ने जॉर्डन का सिंहासन संभाला। अब्‍दुल्‍ला ने वर्ष 2004 में हमजा की क्राउन प्र‍िंस की उपाधि छीन ली थी। यह महरानी नूर के लिए एक बड़ा झटका था, जो अपने बेटे को जॉर्डन के किंग के रूप में देखना चाहती थीं।

हमजा को महंगा पड़ा सरकार की निंदा करना

जॉर्डन दुनिया के उन चुनिंदा मुल्‍कों में शामिल है, जहां राजशाही व्‍यवस्‍था अब भी कायम है। जॉर्डन के शाही परिवार पर यह संकट कोई नया नहीं है। हालांकि, कोरोना महामारी के बाद जॉर्डन राजशाही में यह दिक्‍कतें खुलकर सामने आईं हैं।

दरअसल, कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन के उपबंधों से देश की अर्थव्‍यवस्‍था पूरी तरह से चौपट हो गई। जॉर्डन एक संकट से गुजर रहा है। प्र‍िंस हमजा ने इसके लिए व्‍यवस्‍था को जिम्‍मेदार ठहराया। उन्‍होंने अपनी सरकार पर भ्रष्‍टाचार, भाई भतीजावाद और अक्षमता के आरोप लगाए हैं। सरकार की निंदा के बाद उन्‍हें नजरबंद कर दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here