Home » क्या आप जानते हैं मलेरिया और डेंगू एक-दूसरे से काफी अलग है, नहीं तो इन लक्षणों से करें इनकी पहचान

क्या आप जानते हैं मलेरिया और डेंगू एक-दूसरे से काफी अलग है, नहीं तो इन लक्षणों से करें इनकी पहचान

गर्मियों के आते ही मच्छरों का प्रकोप काफी बढ़ जाता है। मच्छरों से बचना हमारे लिए बेहद जरूरी है, क्योंकि इनकी वजह से हम कई गंभीर बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। मलेरिया इन्हीं गंभीर बीमारियों में से एक है। मच्छर के काटने से होने वाली यह बीमारी कई बार गंभीर रूप लेती है। यह बीमारी बीते लंबे समय से लोगों का अपना शिकार बनाती आ रही है। ऐसे में यह बेहद जरूरी है कि इसे लेकर लोगों को जागरूक किया जाए।

मलेरिया जैसी खतरनाक बीमारी के खिलाफ लोगों को जागरूक करने के मकसद से हर साल 25 अप्रैल को विश्व मलेरिया दिवस मनाया जाता है। मलेरिया के अलावा मच्छरों की वजह अन्य कई बीमारियां भी होती हैं। डेंगू ऐसी ही एक बीमारी है, जिसे कई लोग मलेरिया समझ लेते हैं। दरअसल, दोनों ही बीमारियों के लक्षण काफी हद तक एक जैसे होते हैं, जिसकी वजह से लोग इसमें अंतर नहीं कर पाते हैं। तो चलिए जानते हैं डेंगू और मलेरिया के अंतर के बारे में-

डेंगू क्या है?

आमतौर पर डेंगू चार तरह के वायरस की वजह से होता है। इन चारों में से किसी भी एक वायरस से संक्रमित होने पर व्यक्ति जीवनभर उस वायरस से सुरक्षित रहता है। आमतौर पर मानसून में डेंगू का कहर देखने को मिलता है। इस बीमारी के मच्छर बारिश में जमा होने वाले पानी में पनपते हैं। घरों या आसपास के इलाके में लंबे समय तक खुले पानी में भी डेंगू फैलाने वाले मच्छर पनप सकते हैं। डेंगू के लक्षण 3 से 15 दिनों तक दिखाई नहीं देते हैं। हालांकि, बाद में आप इन लक्षणों से डेंगू की पहचान कर सकते हैं।

  • सिरदर्द
  • तेज बुखार
  • पीठ में दर्द
  • जोड़ों में दर्द
  • शरीर में गंभीर दर्द
  • शरीर में खून की कमी
  • स्किन के रंग में बदलाव
  • आंखों का रंग लाल होना
  • ब्लड प्रेशर असंतुलित होना

मलेरिया क्या है?

मलेरिया भी मच्छर के काटने से होने वाली एक बीमारी है। यह बीमारी मादा ‘एनोफिलीज’ मच्छर के काटने से होती है, जो आमतौर पर गंदे और दूषित पानी में पनपते हैं। यह मच्छर ज्यादातर शाम या रात के समय काटते हैं। आप मलेरिया की पहचान निम्न लक्षणों से कर सकते हैं-

  • तेज बुखार
  • सिर में तेज दर्द
  • उल्टी या जी मचलना
  • कमजोरी और थकान
  • शरीर में खून की कमी
  • ठंड और कंपकंपी होना
  • आंखों का रंग पीला होना
  • पसीना के साथ बुखार कम होना
  • हाथ पैरों खासकर जोड़ों में दर्द

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd