‘बचपन का प्यार मेरा भूल नहीं जाना रे’ गाने से रातों रात फेमस सहदेव अब फिल्म “ शबरी ’’ में आएगें नजर

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

स्वदेश डेस्क (वंदना नायक ) – छ्त्तीसगढ़ में बस्तर के सुकमा जिले का रहने वाला सहदेव दिरदो जो कि सालभर पहले ‘बचपन का प्यार मेरा भूल नहीं जाना रे’ गाने से रातों रात फेमस हुआ था।अब सहदेव बॉलीवुड में नजर आने वाला हैं। बताया जा रहा हैं कि फिल्म का नाम शबरी है।औऱ सहदेव फिल्म में मशहूर एक्टर राजपाल यादव का बचपन का रोल अदा करेगा। बताया जा रहा है कि, इस फिल्म के कुछ हिस्से की शूटिंग छ्त्तीसगढ़ के अलग-अलग लोकेशन में होगी।सहदेव के करियर की यह चौथी और बॉलीवुड के बड़े पर्दे के लिए यह पहली फिल्म होगी। इसने इससे पहले अजित जोगी, संघर्ष और बस्तर बॉय जैसी फिल्मों में काम किया है। हालांकि, ये फिल्में अभी रिलीज नहीं हुई हैं। जल्द ही इन्हें रिलीज किया जाएगा। सहदेव को सिनेमा जगत में जाता देख लोगों में भी काफी खुशी का माहौल है।

ये भी पढ़ें:  स्वरा भास्कर ने किया ऋचा चड्ढा का बचाव , सेना का उड़ाया था मजाक
VIDEO: वायरल सॉन्ग 'बचपन का प्यार मेरा भूल नहीं जाना रे' का ये भोजपुरी  वर्जन नहीं सुना तो कुछ नहीं सुना | Have you heard the Bhojpuri version of  Bachpan ka pyar

दरअसल, करीब 2-3 साल पहले सहदेव के टीचर ने इसकी क्लास रूम में ‘बचपन का प्यार’ गाना गाते हुए वीडियो बनाया था। यह वीडियो सालभर पहले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जमकर वायरल हुआ था। कई बॉलीवुड स्टार्स ने भी इस पर लिप्सिंग कर इंस्टाग्राम रील्स बनाई थी। देखते ही देखते सहदेव रातों-रात स्टार बन गया था। बॉलीवुड इंडस्ट्री से भी सहदेव के पास कई कॉल आए थे। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से लेकर केंद्रीय मंत्रियों ने भी सहदेव से मुलाकात की थी। फेमस रैपर बादशाह ने भी सहदेव के साथ ‘बचपन का प्यार’ गाने पर म्यूजिक वीडियो एल्बम बनाया था। यह वीडियो एल्बम लोगों को खूब पसंद आया था। बादशाह ने सहदेव को आर्थिक मदद भी की थी। इसके अलावा इंडियन आइडल के मंच से भी सहदेव को बुलाया गया था।

ये भी पढ़ें:  अभिनेता विक्रम गोखले का पुणे अस्पताल में हुआ निधन

इस फिल्म के डायरेक्टर देवेंद्र जांगड़े हैं ।  उन्होंने बताया कि उन्होंने खुद सहदेव को अजीत जोगी के बचपन के किरदार के लिए तैयार किया। इसके साथ ही फिल्म के डायरेक्टर का मानना है कि कैमरे के सामने सहदेव अच्छा परफॉर्म करते हैं। एक आदिवासी लुक के बच्चे की तलाश थी। सहदेव इस रोल के लिए सटीक साबित हुआ।फिल्म से जुड़े सूत्रों ने बताया कि फिल्म की शूटिंग लगभग पूरी हो गई है। पहले चरण के शूट में अजीत जोगी के बचपन को फिल्माया गया। अजीत जोगी का गांव और उनके बचपन की पढ़ाई, स्कूलिंग को दिखाया गया है। इस फिल्म में दिखाया जाएगा कि एक गरीब आदिवासी परिवेश का बच्चा कैसे प्रोफेसर बना, IPS और IAS बना ।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News