Home बिजनेस क्रिसिल ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी ग्रोथ के...

क्रिसिल ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी ग्रोथ के अपने अनुमान में की कटौती, निजी खपत व निवेश के प्रभावित होने का दिया हवाला

46
0

नई दिल्ली। घरेलू क्रेडिट रेंटिग एजेंसी क्रिसिल (Crisil) ने सोमवार को चालू वित्त वर्ष 2021-22 के लिए देश की जीडीपी ग्रोथ के अपने अनुमान को कम कर दिया है। क्रिसिल ने मौजूदा वित्त वर्ष के लिए देश की जीडीपी ग्रोथ के लिए अपने अनुमान को पहले के 11 फीसद से घटाकर 9.5 फीसद कर दिया है।

रेटिंग एजेंसी ने कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के कारण निजी खपत और निवेश पर पड़े प्रभाव के चलते जीडीपी ग्रोथ के अनुमान में कटौती की है। क्रिसिल से पहले कई क्रेडिट एजेंसियां चालू वित्त वर्ष के लिए जीडीपी ग्रोथ के अपने अनुमान को कम कर चुकी हैं।

जीडीपी में कटौती करते हुए क्रिसिल के अर्थशास्त्रियों ने कहा, ‘कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर द्वारा विकास के दो इंजन निजी खपत और निवेश को प्रभावित करने के कारण हमने अपने अनुमान में कटौती की है।’

इससे पहले मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने मार्च, 2022 में समाप्त होने वाले चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी वृद्धि दर 9.3 फीसद रहने का अनुमान जताया था। वहीं, रेटिंग एजेंसी ने वित्त वर्ष 2023 में देश की जीडीपी ग्रोथ 7.9 फीसद रहने का अनुमान लगाया है।

हाल ही में सरकार ने वित्त वर्ष 2020-21 के जीडीपी के आंकड़े जारी किये हैं। वित्त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही में देश की विकास दर 1.6 फीसद पर रही है, लेकिन पूरे वित्त वर्ष 2020-21 में भारत की अर्थव्यवस्था में 7.3 फीसद का संकुचन दर्ज किया गया। सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों में कहा गया है कि वित्त वर्ष 2019-20 में देश की विकास चार फीसद पर रही थी।

Previous articleगिर गया सोने का हाजिर भाव, चांदी में भी आई अच्छी-खासी गिरावट
Next articleप्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन की सूचनाएं महज अफवाह: नरोत्तम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here