Home बोध कथा बुद्ध की शिक्षा

बुद्ध की शिक्षा

8
0

बुद्ध का शिष्य था पूर्ण। बहुत दिनों तक उनके पास रहा। जब शिक्षा पूरी हो गई तो बुद्ध ने कहा कि अब मेरे प्रेम और अहिंसा के संदेश को लोगों के बीच ले जाओ !

पूर्ण सूखा नामक क्षेत्र में जाने को तत्पर हुआ तो बुद्ध ने कहा कि वहाँ के लोग तो बहुत उग्र हैं। वे तुझे गाली देंगे तेरा अपमान करेंगे। पूर्ण बोला- कोई बात नहीं, मैं तो ऐसे लोगों को दयालु ही मानता हूँ कि वे गाली ही तो देंगे, अपमान ही तो करेंगे, पत्थर तो नहीं मारेंगे !

बुद्ध बोले- पूर्ण, वे पत्थर भी मार सकते हैं ? पूर्ण का उत्तर था- कोई बात नहीं, मैं तो ऐसे लोगों को दयालु ही मानता हूँ कि वे पत्थर ही तो मारेंगे। जान से नहीं मार डालेंगे ?

बुद्ध बोले- पूर्ण, पर वे तो जान से भी मार सकते हैं ! पूर्ण ने उत्तर दिया- तब तो वे सचमुच ही दयालु हैं कि मुझे इस जीवन से मुक्त कर देंगे, जिसमें मैं भटक भी सकता हूँ। तब बुद्ध ने कहा कि वत्स अब तू जा, तेरी शिक्षा पूर्ण हो चुकी है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here