इंदौर. ये हैं आदिवासी जिले आलीराजपुर के सुदूर ग्राम कुलवट बायसा जमरा। जो कच्ची झोपड़ी में बैठकर लैपटॉप पर डिजिटल लेन-देन कर रही हैं। अब गांव के लोगो को बैंक जाने की जरूरत नहीं रही, क्योंकि वे बैंक से संबंधित सभी काम लैपटाप पर ऑनलाइन ही कर देती हैं। इससे ना सिर्फ ग्रामीणों का समय बच रहा है बल्कि महिला की आजीविका भी चल रही है। सिर्फ 12वीं तक पढ़ी हैं...

इंदौर. ये हैं आदिवासी जिले आलीराजपुर के सुदूर ग्राम कुलवट बायसा जमरा। जो कच्ची झोपड़ी में बैठकर लैपटॉप पर डिजिटल लेन-देन कर रही हैं। अब गांव के लोगो को बैंक जाने की जरूरत नहीं रही, क्योंकि वे बैंक से संबंधित सभी काम लैपटाप पर ऑनलाइन ही कर देती हैं। इससे ना सिर्फ ग्रामीणों का समय बच रहा है बल्कि महिला की आजीविका भी चल रही है। सिर्फ 12वीं तक पढ़ी हैं...

विदेश