रायपुर।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरूवार 14 जून को एक दिन के संक्षिप्त प्रवास पर छत्तीसगढ़ आ रहे हैं। मोदी इस दौरान नया रायपुर स्मार्ट सिटी और भिलाई नगर में आयोजित कार्यक्रमों में शामिल होंगे। लगभग तीन वर्ष में पीएम मोदी का यह पांचवां छत्तीसगढ़ प्रवास होगा। इतना ही नहीं बल्कि सिर्फ दो माह के भीतर छत्तीसगढ़ में उनकी यह दूसरी यात्रा होगी। पीएम भिलाई नगर के जयंती स्टेडियम में दोपहर 12:30 बजे विशाल आमसभा को संबोधित करेंगे।

- पीएम मोदी इस अवसर पर केंद्र सरकार की ‘उड़ान’ योजना के तहत जनता को रायपुर से जगदलपुर तक यात्री विमान सेवा की भी सौगात देंगे। उनके हाथों इस विमान सेवा के शुभारंभ के साथ ही प्रदेश का आदिवासी बहुल बस्तर संभाग देश के हवाई यातायात के मानचित्र में शामिल हो जाएगा।

- पीएम मोदी इसके अलावा भिलाई इस्पात संयंत्र के आधुनिकीकरण और विस्तारीकरण परियोजना का लोकार्पण और छत्तीसगढ़ में इंटरनेट कनेक्टिविटी के विस्तार के लिए भारत नेट परियोजना के द्वितीय चरण का भूमिपूजन तथा भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) भिलाई नगर के विशाल भवन का शिलान्यास भी करेंगे। मोदी मंच पर छत्तीसगढ़ सूचना क्रांति योजना के तहत प्रतीक स्वरूप पांच विद्यार्थियों को लैपटॉप देंगे।

- वे प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना, स्टैंडअप और मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, मुख्यमंत्री आबादी पट्टा वितरण योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और राज्य सरकार की ई-रिक्शा वितरण योजना के तहत प्रतीक स्वरूप कुछ हितग्राहियों को प्रमाण पत्र, चेक और सामग्री आदि का भी वितरण करेंगे। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और केन्द्रीय इस्पात मंत्री वीरेन्द्र चौधरी भी आमसभा को संबोधित करेंगे। - स्वागत भाषण राजस्व और उच्च शिक्षा मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय देंगे। प्रधानमंत्री मोदी 14 जून को नई दिल्ली से भारतीय वायु सेवा के विमान से सुबह 10:40 बजे रायपुर आएंगे। स्वामी विवेकानंद विमानतल (माना) से नया रायपुर स्मार्ट सिटी आकर 10.55 बजे वहां बिजली, पानी, स्वच्छता, यातायात प्रबंधन, एकीकृत भवन प्रबंधन, सिटी कनेक्टिविटी एवं इंटरनेट अधोसंरचना (डाटा सेंटर) और सम्पूर्ण नया रायपुर शहर की निगरानी के लिए एकीकृत कमांड और नियंत्रण केन्द्र का लोकार्पण करेंगे। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह भी उनके साथ रहेंगे।

- नया रायपुर विकास प्राधिकरण (एनआरडीए) द्वारा स्थापित इस केंद्र को जीआईएस प्लेट फॉर्म की मदद से संचालित किया जाएगा। नया रायपुर स्मार्ट सिटी के नागरिक इस केंद्र में बिजली, पानी आदि किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर अपनी शिकायत वहां के हेल्प लाइन नम्बरों पर दर्ज करवा सकते हैं।

- नया रायपुर और भिलाई नगर के कार्यक्रमों के बाद प्रधानमंत्री हेलीकॉप्टर द्वारा दोपहर 2:20 बजे स्वामी विवेकानंद विमानतल माना आएंगे और वहां से दोपहर 2:25 बजे भारतीय वायु सेना के विशेष विमान द्वारा नई दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

तैयार हो रहे डेढ़ लाख फूड पैकेट, 14 हजार किलो हलवा

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 14 जून काे सभा में आने वाले लोगों के लिए अक्षयपात्र में भोजन पैकेट तैयार किए जा रहे हैं। सभास्थल में दुर्ग जिले से करीब एक लाख लोगों की भीड़ जुटने की उम्मीद है। संभाग के अन्य जिलों से लगभग 50 हजार लोगों के आने की संभावना है। सभास्थल पर जुटने वाली भीड़ के लिए अक्षय पात्र में डेढ़ लाख भोजन के पैकेट तैयार किए जा रहे हैं। पैकेट में 6 पूड़ी के साथ हलवा और अचार रहेगा। अक्षय पात्र में लगभग 9 लाख पूड़ियां तली जाएंगी।

- ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले लोगों को सुबह 7 बजे से बसों में भिलाई के लिए रवाना किया जाएगा। यात्री बसों में नाश्ता परोसा जाएगा। नाश्ते के पैकेट में चना मुर्रा, बिस्कुट और केला दिया जाएगा।

- गर्मी और उमस को देखते हुए पानी पाउच के अलावा लगभग 3 लाख मठा के पैकेट बांटे जाएंगे।

- सभास्थल के पास पीवीसी की 25 पानी टंकियां लगाई गई हैं। टंकियों में 5 सौ से एक हजार लीटर पानी भरा जा सकता है। हर टंकी में 5 से 10 नल लगाए गए हैं।

तीन साल में पांच बार आए पीएम

- पीएम मोदी दो महीने पहले 14 अप्रैल को राज्य के आदिवासी बहुल बस्तर संभाग के ग्राम जांगला (जिला-बीजापुर) आए थे। यहां उन्होंने अम्बेडकर जयंती के अवसर पर राष्ट्रव्यापी ग्राम स्वराज अभियान के साथ-साथ आयुष्मान भारत योजना के प्रथम चरण में देश के प्रथम हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का शुभारंभ किया था।

- प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी पहली बार 9 मई 2015 को छत्तीसगढ़ आए थे, जहां उनकी गरिमामय उपस्थिति में बस्तर संभाग के सामाजिक आर्थिक विकास में तेजी लाने के लिए 24 हजार करोड़ रुपए की परियोजनाओं के लिए केंद्र सरकार के विभिन्न उपक्रमों के साथ समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए थे।

- इन परियोजनाओं में रावघाट-जगदलपुर 140 किलोमीटर रेलमार्ग निर्माण (लागत दो हजार करोड़) तीन मिलियन टन वार्षिक उत्पादन क्षमता के अल्ट्रा-मेगा इस्पात संयंत्र निर्माण (लागत 18 हजार करोड़) बचेली और किरंदुल में दस मिलियन टन वार्षिक क्षमता का लौह अयस्क प्रसंस्करण (लागत 1675 करोड़), नगरनार में दो मिलियन टन वार्षिक क्षमता का पेलेट प्लांट (लागत 800 करोड़) और किरंदुल/बचेली से नगरनार तक स्लरी पाइप लाइन और अन्य कार्यों के लिए 1525 करोड़ रुपए की परियोजनाएं शामिल हैं।

- प्रधानमंत्री ने अपने प्रथम प्रवास के दौरान 9 मई 2015 को दंतेवाड़ा जिले के ग्राम जावंगा में आदिवासी बच्चों और अन्य कमजोर तबकों के बच्चों के लिए निर्मित एजुकेशन सिटी भी गए थे, जहां उन्होंने बच्चों के साथ बैठकर मन की बातों को साझा किया था। प्रधानमंत्री दूसरी बार छत्तीसगढ़ प्रवास के तहत 21 फरवरी 2016 को नया रायपुर और ग्राम कुर्रूभाठ (विकासखण्ड-डोंगरगढ़, जिला राजनांदगांव) आए थे।

- उन्होंने नया रायपुर में प्रधानमंत्री आवास योजना (सबके लिए आवास मिशन) के तहत मुख्यमंत्री आवास योजना के 40 हजार मकानों की बड़ी परियोजना का शिलान्यास करते हुए नया रायपुर में बनने वाले इलेक्ट्रॉनिक मेन्युफेक्चरिंग क्लस्टर (ईएमसी) और प्रदेश सरकार की नवाचार एवं उद्यमिता नीति का भी शुभारंभ किया था।

- उन्होंने इस मौके पर सत्य सांई हेल्थ एजुकेशन ट्रस्ट के मानव विकास केन्द्र ''सौभाग्यम'' और श्रीसत्य सांई संजीवनी सेंटर फॉर चाईल्ड हार्ट केयर का लोकार्पण तथा सत्य सांई बाबा की प्रतिमा का अनावरण भी किया था। वे उसी दिन राजनांदगांव जिले के ग्राम कुर्रूभाठा गए थे, जहां उन्होंने देश के गांवों को शहरों जैसी बुनियादी सुविधाएं दिलाने के लिए राष्ट्रीय रूर्बन मिशन और राज्य के लिए 100 जेनेरिक मेडिकल दुकानों का शुभारंभ करते हुए जिले के दो विकासखंडों-अम्बागढ़ चौकी और छुरिया को खुले में शौचमुक्त (ओडीएफ) भी घोषित किया था। उन्होंने कुर्रूभाठ के कार्यक्रम में प्रदेश की स्वच्छता दूत 104 वर्षीय कुंवरबाई (अब स्वर्गीय) को चरण स्पर्श कर सम्मानित किया था।

- मोदी तीसरी बार छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर एक नवम्बर 2016 को नया रायपुर आए थे, जहां उन्होंने राज्योत्सव का शुभारंभ करते हुए जंगल सफारी, बस रैपिड ट्रॉजिट सिस्टम और एकात्म पथ का लोकार्पण किया था। उन्होंने इस मौके पर नया रायपुर में पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा का अनावरण करते हुए राज्योत्सव के मंच पर किसानों के लिए छत्तीसगढ़ सरकार की सौर सुजला योजना का शुभारंभ किया था।

विदेश