भोपाल/जबलपुर।आगामी विधानसभा और उसके बाद होने वाले लोकसभा चुनाव में फिर से सरकार बनाने के लिए भाजपा ने तैयारी शुरू कर दी है। भेड़ाघाट में मंगलवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में हुई बैठक में वर्तमान राजनैतिक हालातों और चुनाव में विपक्ष द्वारा बनाए जाने वाले मुद्दों को लेकर चर्चा की गई। बैठक में ये भी तय किया गया है कि मंदसौर में जहां राहुल गांधी की सभा हुई थी वहां पर पीएम मोदी की सभा कराई जाए। इसके लिए मोदी का 23 जून का मध्य प्रदेश दौरा टल सकता है।

बताया जीत का फॉर्मूला

- सूत्रों के अनुसार शाह ने चुनाव में जो मुद्दे विपरीत असर पहुंचा सकते हैं, उन्हें समाप्त करने के लिए जुट जाने को कहा। उन्होंने जीत का जो फॉर्मूला बताया, उसमें किसान, व्यापारी और आदिवासियों को खुश करना प्रमुख है। इन्हें पार्टी से मजबूती से जोड़ें। अमित शाह ने दिग्वजय सिंह के 10 साल के कार्यकाल की खामियों को याद दिलाने कहा है।


कमलनाथ का कितना असर
-अमित शाह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह के साथ बंद कमरे में बैठक की। बाद में संगठन महामंत्री रामलाल भी इसमें शामिल हुए। बताया जाता है कि सरकार के कामकाज को लेकर अमित शाह ने नसीहत दी। 
- अमित शाह ने स्पष्ट पूछा कि यहां कमलनाथ का कितना असर है। कितनी सीटे महाकौशल में प्रभानित हो रही हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में हजार-दो हजार वोट के मार्जिन से हार-जीत वाली सीटों पर मौजूदा स्थिति समझने की बात कही।

- उन्होंने कहा कि गोंगपा और बसपा के साथ कांग्रेस का गठबंधन मप्र के चुनाव में होता है तो उससे कितनी सीटों पर असर पड़ सकता है। इसके लिए हमारी क्या तैयारी है।

इतना सब करने के बाद भी किसान नाराज क्यों
- भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि आखिर इतना सब करने के बाद भी यहां किसान नाराज क्यों हैं। किसान आंदोलन के मुद्दे को कांग्रेस भुना रही है। इसका सीधा सा मतलब है कि हम लोग जमीनी स्तर पर इस बात को समझाने में नाकाम रहे।

- करीब दो घंटे चली बैठक में शाह ने कहा कि प्रदेश में किसानों के मुद्दों पर भाजपा को क्या नुकसान हो सकता है, इसे कैसे कम किया जाए, इस पर विस्तृत चर्चा की गई। 
- इसके अलावा व्यापारियों को खुश करने एवं आदिवासियों में सेंध न लगने पाए, इस पर नजर रखने के लिए कहा गया।
- साथ ही स्थानीय मुद्दों पर भी संजीदगी बरतते हुए उनका असर कम करने की रणनीति एवं आगामी चुनावों में जीत का रोडमैप तैयार किया गया।

महिला कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

कांग्रेस नेता पिंकी मुद्दगल व गजेन्द्र सोनकर ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के काफिले पर सूपाताल में चूड़ियां फेंकीं। इस घटना के तुरंत बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। भेड़ाघाट चौराहे पर कांग्रेस नेता संजय यादव के साथ लोकेश मिश्रा, सोनू दुबे व अन्य कांग्रेस नेताओं ने प्रदर्शन कर पंचवटी में मिल रहे नालों, भेड़ाघाट क्षेत्र में घरों में शराब की सप्लाई, क्षेत्र में अवैध रेत निकासी को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार करके शाम को छोड़ दिया। शहर महिला कांग्रेस ने नौदराब्रिज पर काली साड़ी पहनकर विरोध-प्रदर्शन किया।

विदेश