दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल फिर से धरने पर बैठ गए है। इस बार उनके साथ उनके मंत्री भी शामिल है। मुख्यमंत्री केजरीवाल के अलावा उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन भी शामिल है। सत्येन्द्र जैन ने तो अनिश्चितकालीन हड़ताल का ऐलान कर दिया है। खास बात यह है कि इस बार यह हड़ताल उपराज्यपाल निवास के वेटिंग रूम में हो रही है। इसके पीछे जो वजह है दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के द्वारा संवैधानिक कर्त्तव्यों का निर्वहन न करना है।

अरिवंद केजरीवाल ने जिन मांगों को रखा है उनमें एक, चार महीने से जारी अधिकारियों की गैरकानूनी हड़ताल। दूसरी, काम नहीं करने और रोकने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग। तीसरी, राशन की डोर टू डोर  डिलीवरी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल को सीधे टारगेट करते हुए अपनी मांगों की पूरी करने की मांग की है। जब तक मांग पूरी नहीं होगी तब तक हड़ताल खत्म नहीं होगी। 

विदेश