जबलपुर. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह एक दिन के दौरे पर जबलपुर पहुंच गए हैं। शाह यहां पर प्रदेश चुनाव प्रबंधन समिति और कोर कमेटी की बैठक लेंगे। जहां वह चुनाव जीतने का मंत्र देंगे। आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए अमित शाह छत्तीसगढ़ के दौरे के बाद मध्य प्रदेश के जबलपुर पहुंचे हैं। इसके पहले शाह भेड़ाघाट में नर्मदा पूजन करेंगे।

- इधर, शिवराज के मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह जहां भी गए हैं, वहां पर भाजपा की सरकार बनी है। साथ ही उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसा है कि वह जहां भी गए हैं, वहां कांग्रेस को हार मिली है।

-वहीं पीसीसी चीफ कमलनाथ का कहना है कि प्रदेश में भाजपा की जमीन खिसक रही है, इसलिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को बार-बार मध्य प्रदेश के दौरे पर आना पड़ रहा है।

- इससे पहले जबलपुर के डुमना एयरपोर्ट पर उनका स्वागत प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह, वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय, नरोत्तम मिश्रा ने अमित शाह का स्वागत किया।

भेड़ाघाट में बैठक, सुरक्षा चुस्त

- एयरपोर्ट से अमित शाह भेड़ाघाट के लिए रवाना हो गए हैं। जहां वह चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक लेंगे। इसमें प्रदेश के चुनिंदा 26 नेता मौजूद रहेंगे। इसके बाद शाम को वह गुलजार होटल में 300 से ज्यादा कार्यकर्ताओं से चुनाव के दौरान सोशल मीडिया के एजेंडे पर चर्चा करेंगे।

एयरपोर्ट से भेड़ाघाट तक स्वागत

- डुमना एयरपोर्ट से अमित शाह भेड़ाघाट के लिए रवाना हो गए हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के स्वागत में एयरपोर्ट से लेकर भेड़ाघाट तक जगह-जगह स्वागत पंडाल लगाए गए हैं। जहां पार्टी अध्यक्ष अमित शाह का स्वागत किया जा रहा है। सबसे पहले अमित शाह ने डुमना विमानतल पर स्वागत पंडाल में जाकर कार्यकर्ताओं का अभिवादन किया।

विरोध से पहले कांग्रेस की महिला नेता गिरफ्तार
- भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का विरोध करने से पहले महिला कांग्रेस समेत कई कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने नौदराब्रिज स्थित राजीव गांधी प्रतिमा के सामने 25 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। महिला कार्यकर्ता काले कपड़े पहनकर जा रही थीं। ये हार्दिक पटेल की कार पर अंडे फेंकने की घटना का विरोध जता रही हैं। पुलिस को आशंका है कि अमित शाह के आने-जाने के मार्ग में काले झंडे दिखाए जा सकते हैं, इसलिए सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं।

महाकौशल-विन्ध्य और बुंदेलखंड की 93 सीटों पर फोकस
- बुंदेलखंड, महाकोशल और विंध्य के चार संभागों के 93 विधानसभा क्षेत्रों पर भाजपा की नजर है। पिछले चुनाव में यहां की 63 सीट भाजपा के खाते में आई थीं पर इस बार करीब आधी से ज्यादा सीटों पर मौजूदा विधायकों के प्रति नाराजगी है।
- कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मंदसौर दौरे के ठीक बाद में शाह का जबलपुर आ रहे हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि शाह मंगलवार को राहुल द्वारा किसानों की कर्जमाफी की घोषणा का जवाब भी दे सकते हैं।

इन मुददों पर होगी चर्चा
- शाह चाहते हैं कि दोनों चुनावों की तैयारी एक साथ की जाए। इसके पीछे बड़ी वजह यह है कि नवंबर-दिसंबर में मप्र समेत चार राज्यों के विधानसभा चुनावों को लेकर पार्टी के भीतर यह चर्चा हो रही है कि लोकसभा चुनाव के साथ इन राज्यों के भी चुनाव कराए जाएं।
- इस पर सहमति बन जाती है तो चुनावी तैयारी उसी हिसाब से होगी। इसीलिए पहले से कमेटियों को बनाकर भाजपा उनको सक्रिय करने की तैयारी में है।
- बहरहाल, अमित शाह चुनाव प्रबंधन कमेटियों से चर्चा करने के साथ-साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, नरेंद्र सिंह तोमर, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह और संगठन महामंत्री सुहास भगत से किसान आंदोलन का फीडबैक भी लेंगे।
- अमित शाह के दौरे के कारण मंगलवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक को टाल दिया गया है। यह अब 15 जून को होगी।

विदेश