जबलपुर। गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के खिलाफ शहर में प्रदर्शन हुआ और आगा चौक पर उनकी गाड़ी पर अंडे फेंके गए। कांग्रेस ने भाजपा पर अंडे फिकवाने का आरोप लगाया है। हार्दिक पटेल पनागर में आयोजित सभा में शामिल होने जा रहे थे। बताया जा रहा है कि बाइक सवार दो युवक रास्ते में आए और कार में जिस ओर हार्दिक बैठे थे उसी ओर अंडे फेंके। इसके बाद बाइक सवार युवक फरार हो गए, उनकी गाड़ी पर कोई नंबर नहीं लिखा था। इसके बाद जब उनकी गाड़ी आधारताल से आगे बढ़ी तो किसी ने गाड़ी पर पत्थर भी फेंके।

पनागर में भी कार पर पथराव हुआ, शांति निकेतन स्कूल के अंदर पत्थर फेंकने वाले छिपे हुए थे। पुलिस दो युवकों को हिरासत में लेकर थाने आई है। इस दौरान एनएच 75 पर कुछ देर के लिए जाम लग गया। किसान नेताओं ने भी जमकर विरोध प्रदर्शन किया।

कल ही मिली थी सभा करने की अनुमति

बुधवार को जिला प्रशासन ने हार्दिक पटेल की सभा पनागर में आयोजित करने की अनुमति दे दी थी। इसके पहले सभा के लिए जिला प्रशासन को आवेदन दिया गया था लेकिन किसान आंदोलन के चलते प्रशासन ने सभा की अनुमति देने से इंकार कर दिया था। अनुमति को लेकर टकराव और मामला हाईकोर्ट तक जाने की आशंका को देखते हुए प्रशासन ने इसे अनुमति दे दी। हालांकि सभा स्थल पर बुधवार से ही पुलिस बल को तैनात कर दिया गया।

भड़काऊ भाषण नहीं होना चाहिए

हार्दिक पटेल की सभा के लिए समय को निर्धारित कर दिया गया है। इसके अलावा प्रशासन ने सभा में भड़काऊ भाषण नहीं देने की शर्त भी रखी है। सभा के लिए दो साउंड बॉक्स का ही उपयोग करने के लिए कहा गया है।

जांच पड़ताल के बाद मिली अनुमति

पनागर में सभा की अनुमति देने से पहले हर तरह की पड़ताल की गई। कितने लोग इस सभा में शामिल हो सकते हैं। कांग्रेस किन मुद्दों को उठा सकती है। ऐसे कई बिंदुओं की पड़ताल खुफिया तंत्र ने की है। कलेक्टर छवि भारद्वाज के मुताबिक सभा व कार्यक्रम से पहले पुलिस बल की तैनाती की जा रही है, वहीं एसडीएम व तहसीलदार स्तर के अधिकारियों की ड्यूटी भी लगा दी गई है।

विदेश