पेरिस। विश्व की नंबर एक खिलाड़ी रोमानिया की सिमोना हालेप और स्पेन की गर्बाइने मुगुरुजा के बीच ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट फ्रेंच ओपन का सेमीफाइनल मुकाबला खेला जाएगा। दोनों ही खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बुधवार को अपने-अपने क्वार्टर फाइनल मुकाबले जीतकर अंतिम-चार में जगह बनाई।

तीसरी वरीय मुगुरुजा एकतरफा अंदाज में महिला सिंगल्स के मुकाबले में 28वीं वरीय रूस की मारिया शारापोवा को 70 मिनट में 6-2, 6-1 से शिकस्त देकर टूर्नामेंट में आगे बढ़ीं। यह शारापोवा की पिछले छह साल में ग्रैंडस्लैम में सबसे करारी हार है। शारापोवा अमेरिका की सेरेना विलियम्स के चौथे दौर का मैच छोड़ देने के कारण बिना एक शॉट खेले क्वार्टर फाइनल में पहुंची थीं, लेकिन अंतिम-आठ के मैच में उनका प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा।

मुगुरुजा की रूसी खिलाड़ी के खिलाफ चार मैचों में यह पहली जीत है। यहां 2016 में चैंपियन रह चुकी मुगुरुजा ने कहा कि मैं फिर से सेमीफाइनल में पहुंचकर खुश हूं। मुझे पता था कि मेरा मुकाबला अच्छे खिलाड़ियों के खिलाफ होना है, इसलिए मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। 25 ग्रैंडस्लैम क्वार्टर फाइनल खेलने वाली शारापोवा की यह पांचवीं हार है।

इससे पहले मुगुरुजा ने शारापोवा के खिलाफ अपने पिछले तीनों मुकाबले गंवाए थे, लेकिन उन्होंने इस मैच में अपनी हार का बदला ले लिया। वहीं, हालेप ने क्वार्टर फाइनल में तीन सेट तक चले मैच में दो घंटे 14 मिनट में जर्मनी की एंजेलिक कर्बर को 6-7, 6-3, 6-2 से हरा दिया। वह तीसरी बार इस ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंची। अन्य सेमीफाइनल में अमेरिका की मेडिसन कीज का सामना हमवतन स्लोआने स्टीफंस से होगा। दोनों सेमीफाइनल मुकाबले गुरुवार को खेले जाएंगे।

बारिश ने रोका नडाल का मैच : विश्व के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी राफेल नडाल और अर्जेंटीना के डिएगो स्वार्ट्जमान के बीच फ्रेंच ओपन का क्वार्टर फाइनल मैच बारिश के कारण रोकना पड़ा। जब बारिश आई तो नडाल पहला सेट 4-6 से गंवा चुके थे, जबकि दूसरे सेट में उन्होंने वापसी करते हुए 5-3 की बढ़त बनाई थी। मारिन सिलिच और जुआन मार्टिन डेल पोत्रो के बीच अंतिम-आठ दौर का मैच भी बारिश की वजह से पहले सेट में 6-6 की बराबरी के बाद से आगे नहीं बढ़ पाया।

विंबलडन के लिए अभी तैयार नहीं हूं : जोकोविक 

पूर्व नंबर एक टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविक फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में मिली हैरतअंगेज हार से इस कदर सकते में आ गए हैं कि अब साल के तीसरे ग्रैंडस्लैम विंबलडन में खेलने को लेकर भी असमंजस में हैं। जोकोविक पिछले काफी समय से खराब खेल रहे हैं और उनकी इस फॉर्म के कारण वह रैंकिंग में भी 22वें पायदान पर हैं जो 12 वषोर् में उनकी सबसे निचली रैंकिंग है।

जोकोविक ने कहा कि मैं विंबलडन को लेकर असमंजस में हूं और इसमें खेलने के बारे में अभी नहीं सोच रहा। मुझे नहीं पता कि मैं ग्रास कोर्ट सत्र खेलूंगा। मैं इस समय टेनिस के बारे में बिल्कुल भी नहीं सोच रहा हूं। जोकोविक तीन बार विंबलडन चैंपियन रह चुके हैं। उन्होंने करियर में कुल 68 खिताब जीते हैं, लेकिन 2016 में फ्रेंच ओपन के बाद से कोई ग्रैंडस्लैम नहीं जीता। उन्हें रोलां गैरा में 2012, 2014 और 2015 के फाइनल में हार मिली थी। वहीं, इंग्लिश खिलाड़ी एंडी मरे को उम्मीद है कि वह ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट विंबलडन में खेल सकते हैं।

विदेश