चीन में भारतीय राजदूत गौतम बंबावले ने कहा है कि भारत और चीन के रिश्तों में मजबूती आ रही है। उन्होंने आगे कहा कि,'डोकलाम के बाद अरुणाचल प्रदेश में जारी सीमा विवाद के बाद भी भारत और चीन के रिश्तों में मजबूती आ रही है। बेशक दोनों देशों के मतभेद अलग-अलग हो सकते हैं, लेकिन दोनों देश कभी एक-दूसरे से अलग नहीं हो सकते हैं।' चीन के सरकारी टेलीविजन सीसीटीवी को इंटरव्यू देते हुए ये बातें कही।

गौतम बंबावले का इंटरव्यू ऐसे समय पर हुआ है जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शंघाई सहयोग संगठन के शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए चीन जाने वाले हैं। इस सम्मेलन में शिरकत के अलावा पीएम मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच द्विपक्षीय वार्ता होगी। 

गौतम बंबावले ने कहा कि भारत और चीन विकास के रास्ते पर एक-दूसरे से जुदा नहीं हो सकते हैं। हम इन समानताओं पर काम करेंगे। बेशक हमारे बीच में कुछ निश्चित मतभेद हैं लेकिन फिर भी हम मतभेदों के साथ यह सुनिश्चित करने के लिए काम करेंगे कि दोनों देश एक साथ प्रगति और समृद्धि हासिल करें।'

विदेश