नई दिल्ली। दो साल के बैन के बाद आईपीएल में दमदार वापसी करते हुए चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल 2018 का खिताब अपने नाम किया।

इस टूर्नामेंट के इतिहास में ये तीसरा मौका रहा, जब चेन्नई के सुपर किंग्स ने आईपीएल जीता। इस जीत के बाद चेन्नई सुपर किंग्स के टीम मैनेजमेंट ने इस ट्रॉफी को एक खास जगह पर भेजा, ताकि आने वाले सीजन में भी टीम की कामयाबी का ग्राफ यूं ही बढ़ता रहा।

यहां पहुंचीं आईपीएल 2018 की ट्रॉफी

मुंंबई के वानखेड़े स्टेडियम में तीसरी बार आईपीएल का चैंपियन बनने के बाद सीएसके जब चेन्नई पहुंची तो फैंस ने उनका जोरदार स्वागत किया। बता दें कि अपने घरेलू मैदान चेन्नई में सीएसके मात्र एक मैच खेल सकी, जिसका मलाल खिलाड़ियों के साथ-साथ फैंस को भी है।

जोरदार स्वागत के बाद आईपीएल की ट्रॉफी को चेन्नई में स्थित तिरुमाला तिरुपति मंदिर ले जाया गया। मंदिर में पुजारियों ने इस ट्रॉफी को भगवान वेंकटेश्वर स्वामी के आगे रखा और पूजा अर्चना की।

सीएसके को मिले बीस करोड़

आईपीएल 2018 में जीत हासिल करने वाली टीम चेन्नई को 20 करोड़ रुपए पुरस्कार के तौर पर दिए गए, जबकि रनर-अप रही टीम हैदराबाद को 12 करोड़ 50 लाख रुपए मिले। तीसरा स्थान की टीम को 8.75 करोड़, जबकि चौथे स्थान पर रही टीम को 8.75 करोड़ रुपए की धनराशि दी गई।आईपीएल 2018 का फाइनल मुकाबले में महेंद्र सिंह धोनी की सीएसके ने सनराइजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से हराकर आईपीएल 2018 का खिताब जीता था। धोनी की कप्तानी में चेन्नई ने तीसरी बार आईपीएल खिताब पर कब्जा जमाया।

फाइनल मैच में धौनी ने टॉस जीतकर हैदराबाद को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया। पहली पारी में बल्लेबाजी करते हुए हैदराबाद ने कप्तान केन और यूसुफ पठान की अच्छी पारियों के दम पर 20 ओवर में 6 विकेट पर 178 रन बनाए।

चेन्नई को जीत के लिए 179 रन बनाने थे और जीत के लिए मिले इस लक्ष्य को सीएसके ने शेन वॉटसन की नाबाद तूफानी शतकीय पारी के दम पर 18.3 ओवर में 2 विकेट पर हासिल कर लिया। शेन वॉटसन को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

विदेश