सांबा। जिला सांबा के टपेयाल (घगवाल) में हुए दर्दनाक सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई जबकि सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। यह हादसा गुरुवार व शुक्रवार की मध्यरात्रि लगभग दो बजे हुआ। कश्मीर से पंजाब की ओर जा रही इनोवा कार नंबर डीएल4सीएई- 6465 घगवाल के टपेयाल में पहुंचते ही सड़क किनारे पैराफिट से टकरा गई।

यह सड़क हादसा इतना जोरदार हुआ कि गाड़ी के परखचे उड़ गए और उसमें सवार सभी लोग बुरी तरह से घायल हो गए। इस सड़क हादसे की आवाज इतनी जोर से आई कि लगभग पांच सौ मीटर की दूरी पर स्थित थाने तक उसकी आवाज गई। आवाज सुनते ही थाना प्रभारी घगवाल बंसी लाल शर्मा टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए और फिर गाड़ी में फंसे लोगों को बाहर निकाला गया।

चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं अन्य आठ लोगों को पुलिस ने एक्सीडेंटल अस्पताल घगवाल पहुंचाया परन्तु वहां पर उनकी चिंताजनक हालत को देखते हुए उन्हें जीएमसी जम्मू भेज दिया गया। जीएमसी जम्मू में एक वर्ष के बच्चे की भी मौत हो गई।

जानकारी के अनुसार यह लोग कश्मीर में लेबर का काम करते हैं। कश्मीर से वापिस अपने राज्य पंजाब के गुरदासपुर जा रहे थे कि घगवाल में हादसे का शिकार हो गए। मृतकों की पहचान लवप्रीत सिंह उम्र 30 पुत्र सांदा निवासी गुरदासपुर, पुन्नु उम्र 25 पुत्र अतर सिंह, वीनस उम्र 32 पत्नी राम पाल, गीता पत्नी कश्मीरा लाल उम्र 60 वर्ष व एक वर्ष का बच्चा का है जिसके नाम का पता नहीं चल पाया है। सभी मृतक गुरदासपर के बताए गए हैं।

कश्मीर में लेबर का काम करते थे 

सड़क हादसे के शिकार लोग कश्मीर में लेबर का काम करते थे। पंजाब में उनके किसी रिश्तेदार के यहां कोई शादी समारोह था और वह उसी में भाग लेने के लिए जल्दी पहुंचना चाहते थे। माना जा रहा है कि रात के दो बजे के करीब चालक को शायद नींद का झोंका आ गया हो और सड़क हादसा हो गया। कार के चालक की भी घटनास्थल पर ही मौत हो गई है।

पुलिस ने समय रहते किया बचाव कार्य 

रात के दो बजे थे और जिस तरह का हादसा हुआ था अगर वहां मौके पर पुलिस न पहुंचती तो शायद और अधिक नुकसान हो सकता था। पुलिस ने कड़ी मशक्कत के साथ कार में फंसे हुए लोगों को बाहर निकाला और उन्हें पहले एक्सीडेंटल अस्पताल घगवाल और फिर वहां से डाक्टरों ने उन्हें जीएमसी जम्मू भेज दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

मृतकों के शव जिला अस्पताल सांबा में रखे गए 

टपेयाल (घगवाल) में हुए दर्दनाक सड़क हादसे में मारे गए लोगों के शव जिला अस्पताल सांबा के शवगृह में रखे गए हैं। इनके परिजनों के पहुंचने के बाद ही शव उन्हें सौंपे जाऐंगे।

विदेश