बीना, सागर। कुरवाई कैथोरा रेलवे स्टेशन से 200 मीटर की दूरी पर पॉइंट ठीक करने गए दो कर्मचारी उसी ट्रैक पर 120 किमी की स्पीड से आ रही राजधानी एक्सप्रेस से टकरा गए। ट्रैन ड्राइवर ने वाकी टाकी पर सूचना दी। कुरवाई कैथोरा स्टेशन पर डाउन लाइन का पॉइंट फेल था। ड्यूटी पर मौजूद शैलेन्द्र यादव ने ईएसएम संजय शर्मा (48) व पॉइंट्समैन मनोहर लाल पंथी (55) को पॉइंट ठीक करने भेजा। दोनो कर्मचारी पॉइंट को ठीक कर रहे थे उसी वक्त ट्रैक पर 120 की स्पीड से धड़धड़ाती आ रही राजधानी एक्सप्रेस को लाइन दे दी गई। ट्रैन की गति इतनी अधिक थी कि दोनों कर्मचारियों को संभलने का मौका नहीं मिला और वो ट्रैन से टकरा गए। संजय शर्मा के ऊपर से ट्रेन निकल गई और मनोहर लाल पंथी ट्रैन की टक्कर से दूर फिंक गए। घटना में संजय शर्मा की मौके पर ही मौत हो गई।
ट्रैन ड्राइवर ने हादसे के बाद ट्रेन को रोका और घटना की सूचना दी। इसके बाद दो पेट्रोलिंग करने वाले कर्मचारियों को मौके पर भेजा। मौके पर दृश्य दिल दहला देने वाला था। उस वक़्त मनोहर पंथी जीवित था। दोनो कर्मचारियों ने उसे पटरी से उठाकर एक तरफ किया। लगभग 45 मिनिट वह जीवित रहा और फिर उसकी मौत हो गई।
सुबह उठाया शवों को-रात्रि में ही घटना की सूचना जीआरपी गंजबासौदा और कंट्रोल रूम को दी गई। सुबह 5:30 पर जीआरपी ने शवों को उठवाया और पोस्टमार्टम के लिए कुरवाई सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा। घटना के कारणों की जांच रेलवे द्वारा अभी करवाई जा रही है।
 

विदेश