नई दिल्ली। सॉफ्टबैंक समर्थित किफायती आतिथ्य कंपनी ओयो सर्विस अपार्टमेंट के क्षेत्र में उतरने जा रही है। यह सेवा ओयो सिल्वरकी ब्रांड के नाम से दी जाएगी जो कि कॉरपोरेट ग्राहकों के लिए सुलभ होगा। पिछले महीने कंपनी ने चेन्नई की सर्विस अपार्टमेंट कंपनी नोवास्कोटिया बुटिक होम्स का अधिग्रहण किया था। इसके 350 सुसज्जित आवासों को सिल्वरकी नाम से नई ब्रांडिंग की जा रही है। ये अपार्टमेंट चेन्नई, हैदराबाद सहित पांच शहरों में हैं। ओयो के संस्थापक और मुख्य कार्याधिकारी रितेश अग्रवाल ने कहा कंपनी के पास पहले से ही कॉरपोरेट ग्राहकों का बड़ा आधार है। उन्होंने कहा, हमारे पास ऐसे कॉर्पोरेट अतिथियों की बड़ी संख्या है जो अपनी परियोजनाओं के सिलसिले में लंबी अवधि के लिए ठहरते हैं। परंपरागत होटल कम समय के लिए ठहरने के उद्ïदेश्य से ठीक होते हैं। जो लोग लंबी अवधि के लिए ठहरते हैं वे थोड़ा घर जैसा आराम और सार्वजनिक स्थल चाहते हैं। ओयो के कॉर्पोरेट बुकिंग समाधान ओयो बी का उपयोग करने वाले 5,000 से अधिक कॉरपोरेट ग्राहकों में ओयो रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी, गोदरेज, डाबर, ईऐंडवाई और प्राइसवाटरहाउस कूपर्स जैसे प्रमुख ग्राहकों को गिनती है।
 अग्रवाल ने कहा कि एक बिल्डिंग में 30-40 एक बेडरूम-हॉल वाले सर्विस अपार्टमेंट होंगे जो कि शहर के आवासीय क्षेत्रों में होंगे। ये कॉर्पोरेट कार्यालयों से ज्यादा दूर नहीं होंगे। उन्होंने कहा रकम जुटाने के लिए इक्विटी बेचने की कंपनी की फिलहाल कोई योजना नहीं है।  

ओयो ने पिछले वर्ष सितंबर में सॉफ्टबैंक सहित निवेशकों से 25 करोड़ डॉलर जुटाए थे और कंपनी ने साल 2018 के अंत तक सिल्वरकी नेटवर्क को 12 शहरों में फैलाने की योजना बनाई है। दिल्ली, गुडग़ांव, नोएडा, मुंबई, पुणे, बेंगलूरु और कोलकाता में कंपनी जल्द ही अपनी मौजूदगी दर्ज कराएगी।

विदेश