स्वदेश संवाददाता। बारीगढ़
माध्यमिक विद्यालय से लेकर हाईस्कूल और हायर सेकेण्डरी स्कूल में अध्ययनरत बच्चों को विद्यालय पहुंचने हेतु साईकिलें शासन की ओर से नि:शुल्क दी जाती हैं। स्कूल से तीन किमी दूर से पढऩे आने वाले बच्चों को साईकिलें मिलती हैं। 2017-18 शिक्षण सत्र की साईकिलें आखिरी समय दी जा रही हैं। कई जगह यह मनमानी सामने आई है कि साईकिलें मिलने वाले बच्चों को गौरिहार हायर सेकेण्डरी स्कूल जाने के लिए कह दिया गया है जिससे वे जान जोखिम में डालकर साईकिलें लेने पहुंचे।  जानकारी के मुताबिक विगत दिनों शासकीय माध्यमिक शाला धबारी, टिकरी, चंदवारा, बदौराकला, राजापुर के प्रधानाध्यापकों द्वारा बच्चों से कहा गया कि वे अपने अभिभावकों के साथ हायर सेकेण्डरी स्कूल गौरिहार पहुंचे जहां उन्हें साईकिलें मिलेंगी। दोपहर की तेज धूप से जूझकर बच्चे 20 से 25 किमी साईकिल चलाकर अपने-अपने घर आए क्योंकि बस वाले साईकिलों को नहीं रखते। विपिन राजपूत ने बताया कि उनके पिता भोपाल में मजदूरी करते हैं लेकिन बस वाले साईकिल नहीं रखते इसलिए इसे चलाकर आए हैं। वहीं क्योलाहा के जीतू राजपूत ने बताया कि मजबूरन साईकिल में ही बच्चों को सफर करना पड़ा। माध्यमिक शाला धबारी की प्रधानाध्यापिका से जब साईकिल के संबंध में चर्चा की गई तो उनका कहना था कि तीन-चार खर्च कर सरकार बच्चों को साईकिल देती है तो क्या अभिभावक 50-100 रूपए खर्च कर साईकिल नहीं ले सकते। 
इनका कहना 
हमने हाईस्कूल की साईकिलें संबंधित स्कूल में ही उपलब्ध कराई हैं। मिडिल स्कूल की साईकिलों की जिम्मेदारी बीआरसीसी की है। 
एसएन तिवारी, बीईओ गौरिहार
सभी सीएसी एवं प्रधानाध्यापकों को निर्देशित किया गया है कि साईकिलें जन शिक्षा केन्द्र स्तर पर डंप करवाकर बच्चों को उपलब्ध कराएं। 
श्री पटेल, बीआरसीसी गौरिहार

 दमोह।  वित्त और वाणिज्यिक कर मंत्री जयंत कुमार मलैया ने आज बांदकपुर में आयोजित एक गरिमामय कार्यक्रम में स्कूली छात्र-छात्राओं को साईकिल वितरित करते हुए कहा बच्चों खूब पढ़ो सरकार ने तुम्हारे लिए माकूल व्यवस्थाएं कर दी हैं। उन्होंने कहा गरीब प्रतिभावान छात्रों का मेडिकल, इंजीनिरिंग, आईआईटी जैसे प्रतिष्ठित संस्थानों में चयन होने पर सरकार फीस भरेगी, तुम्हारा काम सिर्फ पढऩा है। अब गरीब प्रतिभावान बच्चें माता-पिता के लिए बोझ नहीं होंगे।  इस अवसर पर भाजपा उपाध्यक्ष अखिलेश हजारी, मण्डल अध्यक्ष राजकुमार जैन, छोटेलाल गौतम, मनीष तिवारी, सुनील डबुलिया, विशाल शिवहरे, भरत यादव, रिंकू गोस्वामी, श्याम दुबे, प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी पी.पी.सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधि अधिकारीगण मौजूद थे।

विदेश