काठमांडू। एजेंसी
नेपाल से कुआलालंपुर जा रहा एक विमान गुरुवार रात यहां टेक ऑफ के दौरान रनवे पर फिसलकर 50 मीटर आगे चला गया। त्रिभुवन हवाई अड्डे पर हुई इस दुर्घटना में विमान में सवार 139 यात्री बाल-बाल बचे। इसकी वजह से नेपाल के इकलौते अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर करीब 12 घंटे तक कामकाज बाधित रहा। इस दौरान सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को रद कर दिया गया। घरेलू उड़ानों पर हालांकि इसका कोई असर नहीं पड़ा। हवाई अड्डे के जनरल मैनेजर राज कुमार छेत्री ने बताया कि मलिंदो एयरजेट के विमान बोइंग 737-900 के फ्लाइट कैप्टन विमान को टेक ऑफ कर ही रहे थे कि उन्हें कॉकपिट में लगे मॉनिटर में कुछ दिक्कत दिखाई दी। इससे उन्होंने टेक ऑफ को रद कर दिया। लेकिन विमान रुक नहीं पाया और रनवे से फिसलकर दक्षिण दिशा में 50 मीटर आगे घास के मैदान में चला गया। विमान का अगला पहिया कीचड़ में धंस गया। छेत्री के अनुसार, इस घटना में किसी के घायल होने या विमान को किसी नुकसान की कोई सूचना नहीं है। वर्ष 2015 में तुर्की एयरलाइंस के एक विमान को भी लैंड करते समय इस तरह की दिक्कत का सामना करना पड़ा था। उस दुर्घटना की वजह से हवाई अड्डे पर चार दिनों तक उड़ानें बंद रही थीं।

विदेश