नवाज शरीफ अब आजीवन चुनाव नहीं लड़ सकते है। यह निर्णय दिया है पाकिस्तानी सुप्रीम के द्वारा। पाकिस्तानी न की राजनीति में यह अपने आप ही में एक रिकॉर्ड है कि किसी प्रधानमंत्री को आजीवन चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया गया हो। पाकिस्तान के तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके है नवाज शरीफ। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें पहले प्रधानमंत्री के लिए अयोग्य ठहराया फिर चुनाव लड़ने पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया। 

पनामा पेपर लीक मामले में नवाज शरीफ को दोषी पाया गया था। उनके ऊपर टैक्स हैवन देशों में निवेश करने और लंदन में प्रापर्टी खरीदने का आरोप है। नवाज शरीफ को पाकिस्तान के संविधान के अनुच्छेद 62(1) एफ के तहत दोषी पाया गया है। वही संविधान के अनुच्छेद 62 और 63 के तहत अयोग्य करार व्यक्ति किसी भी तरह की राजनीतिक पार्टी का अध्यक्ष नहीं रह सकता है। 

पंजाब के शेर के नाम से मशहूर नवाज पाकिस्तान की राजनीति में एक महत्वपूर्ण नेता है। पाकिस्तान में जल्दी. चुनाव होने वाले है। इस सारी प्रक्रम के बाद उनकी पार्टी को घाटा हो सकता है।

विदेश