मध्यप्रदेश सहित देश के विभिन्न हिस्सों से एटीएम में कैश खत्म होने की खबर आ रही है। इस खबर के प्रकाश में आने से अरुण जेटली ने बयान दिया है। उन्होंने कहा कि देश में करें या की स्थिति की समीक्षा कर ली गई है। देश में पर्याप्त मात्रा में करेंसी चलन में है। करेंसी की कोई कमी नहीं बैंकों के पास भी पर्याप्त मात्रा में कैश है।  कुछ क्षेत्रों में अचानक और असामान्य रुप से कमी हो गई है जिसेे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा।

केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से पहले देश के एटीएम और बैंकों में कैश की कमी को लेकर वित्त राज्य मंत्री शिवप्रताप शुक्ला ने कहा था कि हालाक तीन दिन में सुधर जाएंगे। उन्होंने कहा कि वर्तमान में कैश करेंसी एक लाख पच्चीस हजार करोड़ रुपए है। किसी राज्य के पास कम करेंसी है तो किसी के  पास ज्यादा। आरबीआई ने भी एक समिति बनाई है जो एक राज्य से दूसरे राज्य में कैश ट्रांसफर करेंगी। यह काम करने में मात्र तीन दिन लगेंगे। 

देश के मध्यप्रदेश, बिहार, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, राजस्थान, और राजस्थान में कैश की कमी सामने आई थी।

कैश की कमी को साजिश बताया

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कैश की कमी को साजिश करार दिया है। उन्होंने कहा है कि कुल 16.5 लाख करोड़ नोट छापे गए है और मार्केट पहुंचे। लेकिन 2000 के नोट कहां जा रहे हैं? इसके पीछे कोई साजिश है।

 

विदेश