बेंगलुरू। एजेंसी
संजू सैमसन की तूफानी पारी के बाद श्रेयष गोपाल की उम्दा गेंदबाजी से राजस्थान रायल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग में आज यहां रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरू को 19 रन से हराकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। रायल्स ने संजू सैमसन की 45 गेंद में 10 छक्कों और दो चौकों से नाबाद 92 रन की पारी की बदौलत चार विकेट पर 217 रन बनाए। यह मौजूदा आईपीएल का अब तक का सर्वोच्च स्कोर है। इसके जवाब में कप्तान विराट कोहली (57) और मनदीप सिंह (25 गेंद में नाबाद 47) की पारियों के बावजूद आरसीबी की टीम छह विकेट पर 198 रन ही बना सकी।  रायल्स की ओर से श्रेयष ने 22 रन देकर दो विकेट चटकाए। सैमसन ने बेन स्टोक्स (27) के साथ तीसरे विकेट के लिए 49 और जोस बटलर (23) के साथ चौथे विकेट के लिए 73 रन जोड़े। उन्होंने राहुल त्रिपाठी (नाबाद 14) के साथ अंतिम 10 गेंद में 42 रन की अटूट साझेदारी की। 
\सैमसन की तूफानी पारी की बदौलत रायल्स की टीम अंतिम पांच ओवर में 88 रन बटोरने में सफल रही।          

क्रष्टक्च को अंतिम 5 ओवर में चाहिए थे 84 रन
लक्ष्य का पीछा करने उतरे आरसीबी की शुरुआत खराब रही और टीम ने पहले ओवर में ही ब्रैंडन मैकुलम (04) का विकेट गंवा दिया जो कृष्णप्पा गौतम की गेंद पर स्टोक्स को कैच दे बैठे। सलामी बल्लेबाज क्विंटन डिकाक (26) और कप्तान कोहली ने इसके बाद पारी को संवारा। कोहली ने धवल कुलकर्णी के ओवर में तीन चौके मारे जबकि डिकाक ने गौतम पर लगातार दो चौके जड़े। कोहली ने स्टोक्स पर दो चौकों के साथ पावर प्ले में टीम का स्कोर एक विकेट पर 64 रन तक पहुंचाया। डिकाक हालांकि 23 रन के स्कोर भाग्यशाली रहे जब श्रेयष गोपाल की गेंद पर विकेटकीपर जोस बटलर ने उनका कैच टपका दिया। बाएं हाथ के चाइनामैन गेंदबाजी डार्सी शार्ट ने डिकाक को जयदेव उनादकट के हाथों कैच कराके कोहली के साथ उनकी 77 रन की साझेदारी का अंत किया। श्रेयष की गेंद पर बटलर इसके बाद डिविलियर्स को स्टंप करने से चूक गए लेकिन इस लेग स्पिनर ने अगले ओवर में कोहली को मिडविकेट पर शार्ट के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 30 गेंद की अपनी पारी में सात चौके और दो छक्के मारे। डिविलियर्स (20) भी इसके बाद गोपाल की गेंद पर उनादकट के हाथों लपके गए जिससे आरसीबी की जीत की रही सही उम्मीद भी टूट गई।  आरसीबी को जीत के लिए अंतिम पांच ओवर में 84 रन की दरकार थी और मनदीप तथा वाशिंगटन सुंदर (35) के बीच 56 रन की साझेदारी के बावजूद टीम लक्ष्य तक नहीं पहुंच पाई।           
 

विदेश