नई दिल्ली। एजेंसी 
केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 15 अप्रैल यानी रविवार को राज्यसभा के अगले छह साल के कार्यकाल के लिए पद व गोपनीयता की शपथ ली। 65 वर्षीय जेटली हाल ही में उत्तर प्रदेश से निर्वाचित हुए थे। किडनी के प्रत्यारोपण से उबरने व स्वास्थ्य लाभ लेने की वजह से उन्होंने रविवार को एक विशेष समारोह में पद और गोपनीयता की शपथ ली। वहीं, राज्यसभा के अन्य निर्वाचित सदस्य पहले ही एक भव्य समारोह में शपथ ग्रहण कर चुके हैं। यह समारोह राज्यसभा के सभापति एम.वेंकैया नायडू के चैम्बर में सुबह 11 बजे हुआ। जेटली को विगत तीन अप्रैल को एक बार फिर उच्च सदन में विपक्ष का नेता चुना गया था।उल्लेखनीय है कि अरुण जेटली को विगत नौ अप्रैल को एम्स में डायलिसिस पर रखा गया था। फिलहाल वह चिकित्सकों की देखरेख में अपने घर पर ही आराम कर रहे हैं। अरुण जेटली विगत दो अप्रैल से नार्थ ब्लाक स्थित अपने दफ्तर नहीं जा रहे हैं। इसके चलते ही उन्होंने अपनी विदेश यात्राएं भी रद कर दी थीं। उन्होंने ट्वीट करके बताया था कि उनका किडनी से संबद्ध संक्रमण का इलाज चल रहा है। फिलहाल वह अपने घर से ही कामकाज कर रहे हैं। उनके आगे के इलाज की दशा-दिशा उनके डॉक्टर ही तय करेंगे।

विदेश