स्वदेश संवाददाता। भोपाल
पुस्तक की लेखी और आंखों की देखी बात पर संदेह नहीं होता है आंखों से हम दुनिया देखते हैं अच्छे बुरे की परख करते हैं। यह बात सांसद आलोक संजर ने एम्स में एक कार्यशाला के दौरान कही। एम्स में टीचर्स इन ओथेमोलाजी पर कार्यशाला आयोजित की गई। इसमें देशभर से नेत्र विशेषज्ञ डॉक्टर ने शिरकत की। अस्पताल अधीक्षक डॉ मनीषा श्रीवास्तव ने कहा कि आंखे जिंदगी में उजाला लाने का माध्यम है। डॉ मनीषा ने बताया कि आंखों से संबंधी कई गंभीर बीमारियों और जटिल ऑपरेशन के लिए लोगों को प्रदेश से बाहर जाना पड़ता था, लेकिन एम्स के नेत्र विभाग में कई सुविधाएं शुरू हो चुकी हैं। कार्यशाला में आईसीओ एजुकेटर डॉक्टर एके ग्रोवर, डॉ. उल्का श्रीवास्तव, डॉ. राजेश मलिक और कार्यशाला की संयोजक डॉ. भावना शर्मा प्रमुख रूप से मौजूद रहीं।

विदेश