21 वें राष्ट्रमंडल खेल में रविवार को एक रोमांचक मुकाबला देखने को मिला। बैडमिंटन के महिला एकल इवेंट के फाइनल में भारत के दो खिलाड़ी आमने-सामने थे। सायना नेहवाल और पानी सिंधु ने भारत को गोल्ड दिलाने के लिए एक-दूसरे से मुकाबला करते हुए दिखी। इस मुकाबले में सायना ने सिंधु को हराकर गोल्ड मेडल जीता और सिंधु को सिल्वर से संतोष करना पड़ा। सायना ने सिंधु को 21-18,23-21 से हराया। इसके साथ ही सायना नेहवाल राष्ट्रमंडल खेल में दो बार स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई है।

दुनिया के नंबर एक बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत को सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा। तीन सेटो तक चले कड़े मुकाबले में मलेशिया के ली चोंग वेई ने 21-19,14-21 और 21-14 से हराकर गोल्ड मेडल पर कब्जा किया।

राष्ट्रमंडल खेल के अन्य मुकाबलों में रविवार को शुरुआत टेबिल टेनिस के मिक्स्ड डबल्स से हुई। इस मुकाबले में भी भारतीय आमने-सामने थे। मनिका बत्रा और जी साथियान का मुकाबला एएस कमल और मौमा दास के साथ हुआ। इस मुकाबले में मनिका बत्रा और जी साथियान की जोड़ी ने ब्रांज मेडल पर कब्जा किया। इसी मेडल के साथ भारत के राष्ट्रमंडल खेल में कुल पदकों की संख्या 63 हो गई है। भारत पदक तालिका में तीसरे स्थान पर बरकरार है।

 

विदेश