अमेरिका और उसके सहयोगियों के द्वारा सीरियाई सेना और उसके केमिकल रिसर्च सेंटर को निशाना बनाकर 100 मिसाइलें दाग दी। इसी रूस सीरिया की मदद के लिए उतर आया है। रूसी कर्नेल-जनरल रूडस्कोई ने शनिवार को बताया कि रूस सीरिया और अन्य देशों को एस-30सी मिसाइलें सिस्टम की आपूर्ति कर सकता है। 

रूसी कर्नेल-जनरल ने साथ ही कहा की जो मिसाइलें अमेरिका ने दागी है उसने सीरिया भारी तबाही मचायी है। अमेरिका ने यह हमला रासयनिक हमले के बदले स्वरूप में किया है। अमेरिका के साथ इस हमले में फ्रांस और ब्रिटेन शामिल है। अमेरिकी रक्षा सचिव दिन मैटिस और मरीन जनरल डनफोर्ड ने कहा है कि रासयनिक हथियारों पर हमला समुद्र और हवाई मार्ग से किया गया है।

 

विदेश