तालिबान ने गुरुवार रात पश्चिमी अफगानिस्तान के शिनदंद जिले की एक सुरक्षा चौकी पर घात लगाकर हमला किया। इस हमले में नौ पुलिसकर्मियों की मौत हो गई।

हेरात के गर्वनर के प्रवक्ता जलानी फरहाद ने बताया कि सुरक्षा चौकी की तरफ जाती सड़क के किनारे रखा बम फटने से दो अन्य पुलिसकर्मियों की मौत हो गई, जबकि चार घायल हो गए। ये लोग आतंकी हमले की सूचना मिलते ही सुरक्षा चौकी पर मौजूद अपने साथियों की मदद के लिए जा रहे थे।

फरहाद ने कहा, तालिबान हमले में पुलिसकर्मियों की दो बख्तरबंद गाडि़यां भी तबाह हो गईं। आतंकी अपने साथ सुरक्षाबलों का गोला-बारूद भी लूट ले गए। तालिबान ने एक दिन पहले ही गजनी प्रांत के ख्वाजा उमरी जिले में बड़ा हमला किया था। आतंकियों ने इस हमले में 18 लोगों की जान लेने के अलावा जिला मुख्यालय को भी आग के हवाले कर दिया था। अफगानिस्तान में तालिबान आए दिन सुरक्षाबलों को निशाना बनाता रहता है। विशेषज्ञों का मानना है कि अफगान सरकार के बातचीत के प्रस्ताव को लेकर तालिबान दबाव में है इसीलिए ऐसे हमले कर रहा है।

विदेश